Coronavirus: जगन्नाथ मंदिर परिसर में ही संपन्न की गई चंदन यात्रा और अक्षय तृतीया उत्सव

इस बार मशहूर रथ यात्रा 23 जून को होनी है लेकिन देब ने बताया कि इस पर फैसला तीन मई तक लागू लॉकडाउन के बाद होगा.

Coronavirus: जगन्नाथ मंदिर परिसर में ही संपन्न की गई चंदन यात्रा और अक्षय तृतीया उत्सव

कोरोना के कारण मंदिर परिसर में ही चंदन यात्रा की गई.

भुवनेश्वर:

ओडिशा (Odisha) के पुरी स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर (Jagannath Temple) में हर साल होने वाली वार्षिक रथ यात्रा की तैयारियों की शुरुआत के रूप में होने वाली ''चंदन यात्रा'' और ''अक्षय तृ्तीया'' अनुष्ठान रविवार को कोरोनावायरस (Coronavirus) की महामारी के चलते मंदिर परिसर में ही संपन्न हुआ.

Newsbeep

सामान्य तौर पर यह अनुष्ठान मंदिर परिसर के बाहर होता है. पुरी गजपति महाराज दिब्य सिंह देब जो जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन समिति के अध्यक्ष भी हैं ने स्पष्ट किया था कि महत्वपूर्ण अनुष्ठान केवल चुने हुए पुजारियों और सेवादारों की उपस्थिति में ही संपन्न होगा और श्रद्धालुओं को शामिल होने की अनुमति नहीं होगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस बार मशहूर रथ यात्रा 23 जून को होनी है लेकिन देब ने बताया कि इस पर फैसला तीन मई तक लागू लॉकडाउन के बाद होगा. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस यात्रा को आयोजित करने को लेकर चर्चा की थी.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)