NDTV Khabar

दिवाली पर लक्ष्मी-गणेश पूजा के बाद दीपक से क्यों बनाया जाता है काजल?

Deepavali 2018 or Diwali 2018: दिवाली की रात लक्ष्मी-गणेश की पूजा के बाद पूजन में इस्तेमाल हुए मुख्य दीपक से घर पर ही काजल बनाने की परंपरा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिवाली पर लक्ष्मी-गणेश पूजा के बाद दीपक से क्यों बनाया जाता है काजल?

दिवाली की रात क्यों बनाया जाता है घर में काजल?

नई दिल्ली: Diwali 2018 or Deepavali 2018: पूरा विश्व दिवाली (Deepavali) के जश्न में डूबा हुआ है. घरों में लड़ियां लग चुकी हैं और रंगोली भी बनाई जा चुकी है. किचन में मिठाइयां की तैयारी भी पूरी है. रात को शुभ मुहूर्त पर लक्ष्मी पूजन के लिए तैयारियां ज़ोरों पर चल रही हैं. दिवाली पर लक्ष्मी-गणेश की खास पूजा के लिए सामग्रियों को इकट्ठा किया जा रहा है. वहीं, सबसे अलग सालों से एक परंपरा कई लोगों के घरों में देखने को मिल रही है और वो दिवाली के मुख्य बड़े दीए से काजल बनाना. जी हां, रात को लक्ष्मी-गणेश पूजा के बाद इस्तेमाल में लाए गए बड़े दीपक से घर की महिलाएं काजल बनाती हैं और घर में मौजूद सभी सदस्यों को लगाती हैं. लेकिन ऐसा क्यों? जानिए यहां 

Happy Diwali Status 2018: दीपावली के लिए खास WhatsApp स्टेटस

दिवाली की रात क्यों बनाया जाता है काजल?
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार काला टिका या फिर काजल के इस्तेमाल को हमेशा बुरी शक्तियों या कहें नेगेटिव वाइव्स से बचाने के लिए लगाया जाता रहा है. ऐसा माना जाता है कि दिवाली की रात भी पूजा के दीपक से बनाया हुआ काजल लगाने से बुरी नज़र नहीं लगती और घर की सुख समृ्द्धि कोई रुकावट पैदा नहीं होती. इसीलिए तिजोरी, घर का चूल्हा, दरवाज़ों आदि पर भी काला टीका लगाया जाता है. 

इसी के अलावा काजल लगाने के वैज्ञानिक कारण की बात करें तो दिवाली के दौरान पटाखों का धुंआ आंखों को बहुत नुकसान पहुंचाता है. कई बार इस धुएं की वजह से लोगों की आंखों में जलन और लाल होने लगती हैं. तो किसी की आंखों से पानी निकलने लगता है. धुंए के बुरे असर को बेअसर करने के लिए काजल बहुत उपयोगी माना जाता है. इसीलिए भी दिवाली की रात को घर का बना हुआ कैमिकल फ्री काजल लगाना अच्छा माना जाता है. 

टिप्पणियां
दिवाली से जुड़ी अन्य खबरें

दिवाली 2018: रंगोली के सबसे आसान और खूबसूरत डिज़ाइन, बनाएं और करें अपने घर में लक्ष्मी जी का स्वागत​
Diwali 2018: दिवाली लक्ष्मी पूजन का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, मान्यताएं और मां लक्ष्मी जी की आरती​
दिवाली मैसेजेस 2018: दीपावली में दीपों का दीदार हो और खुशियों की बौछार हो, दिवाली के लिए WhatsApp स्टेटस और Facebook मैसेज​
मां लक्ष्मी को फूलों से सजाएं ही नहीं उनके लिए फूलों की सुंदर रंगोली भी बनाएं, यहां देखें आसान डिज़ाइन​
छोटी दीपावली 2018: आज की रात क्यों सबसे छुपकर घर से दूर दीपक जलाया जाता है?
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement