NDTV Khabar

बाबा विश्वनाथ के स्पर्श दर्शन के लिए लागू हो सकता है ड्रेस कोड, महिलाओं को पहननी होगी साड़ी

बनारस जिले के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि ड्रेस कोड के लिए अभी प्रारम्भिक बैठक हुई है. इसका समय क्या होगा, ड्रेस क्या होगा, इस पर अभी हम लोग और चर्चा करेंगे अभी इसमें कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाबा विश्वनाथ के स्पर्श दर्शन के लिए लागू हो सकता है ड्रेस कोड, महिलाओं को पहननी होगी साड़ी

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि ड्रेस कोड के लिए अभी प्रारम्भिक बैठक हुई है.

वाराणसी:

बनारस के बाबा विश्वनाथ के गर्भ गृह में जा कर स्पर्श दर्शन करने के लिए एक पारम्परिक ड्रेस कोड लागू हो सकता है. इस विषय पर काशी विद्वत परिषद् की रविवार को हुई बैठक में चर्चा की गई. इस बैठक में प्रदेश के धर्मार्थ कार्य मंत्री के साथ काशी के विद्वान् लोग शामिल हुए. इस दौरान चर्चा की गई क‍ि गर्भ गृह में जाकर दर्शन करने के लिये एक पारम्परिक ड्रेस कोड जारी किया जा सकता है.  तय किए गए ड्रेस कोड को काशी विश्वनाथ न्यास भी श्रृद्धालुओं को उपलब्ध करा सकता है लेकिन ये ड्रेस कोड क्या हो, कैसा हो, इस पर अभी और विचार होगा क्योंकि ये अभी पहली बैठक थी जिसमें इस तरह का विचार रखा गया है.

यह भी पढ़ें: काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तरह विकसित होगा महाकाल मंदिर

टिप्पणियां

बनारस जिले के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि ड्रेस कोड के लिए अभी प्रारम्भिक बैठक हुई है. उनके मुताबिक, "इसका समय क्या होगा, ड्रेस क्या होगा, इस पर अभी हम लोग और चर्चा करेंगे अभी इसमें कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है. जल्दी ही इसका एक रूप बना कर आगामी जो न्यास की बैठक होगी उसमे इसको रख कर फिर हम लोग अंतिम निर्णय लेंगे." 


ड्रेस कोड के रूप में जो चर्चा हुई, उसमे पुरुष के लिए धोती-कुर्ता और महिलाओं के लिए साड़ी रखने पर विचार हो रहा है और दर्शन का समय सुबह मंगला आरती के बाद और 11 बजे भोग आरती के पहले का हो सकता है.  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... TikTok Viral: समुद्र से निकला इतना बड़ा 'सांप' कि इंसान दिखने लगे चींटी जैसे! 2 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

Advertisement