Eid 2020: लॉकडाउन में घर में ही अदा करनी होगी ईद की नमाज, इस्लामिक सेंटर आफ इंडिया FB के जरिए सिखाएगा तरीका

Eid 2020: इस्‍लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ईद के करीब पांच दिन पहले से ही अपने पेज पर लोगों को ईद की नमाज के तरीके और खुत्बा (प्रवचन) के बारे में बताएगा.

Eid 2020: लॉकडाउन में घर में ही अदा करनी होगी ईद की नमाज, इस्लामिक सेंटर आफ इंडिया FB के जरिए सिखाएगा तरीका

Eid 2020: कोरोनावायरस के चलते इस बार लोगों को ईद की नमाज भी घर में ही अदा करनी होगी.

नई दिल्ली:

रमजान (Ramzan) के बाद अब ईद (Eid) भी लॉकडाउन (Lockdown) में ही होने की प्रबल सम्भावना के बीच इस्लामिक सेंटर आफ इंडिया (ICI) फेसबुक के जरिए लोगों को ईद की नमाज पढ़ने में मदद की तैयारी कर रहा है.

ICI ने रमजान के दौरान पढ़ी जाने वाली विशेष नमाज यानी तरावीह में कुरान शरीफ सुनाने के लिए अपने आधिकारिक फेसबुक पेज के जरिए इंतजाम किया था. अब वह ईद के करीब पांच दिन पहले से ही अपने पेज पर लोगों को ईद की नमाज के तरीके और खुत्बा (प्रवचन) के बारे में बताएगा.

आईसीआई के अध्यक्ष शहर काजी मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने बुधवार को बताया कि रमजान के बाद अब ईद भी शायद लॉकडाउन में ही गुजरे. ऐसे में लोगों को ईद की नमाज भी घर में ही अदा करनी होगी. ईद की नमाज का तरीका बाकी नमाजों से अलग होता है. चूंकि यह नमाज सिर्फ ईद और बकरीद में ही पढ़ी जाती है, इसलिए अक्सर लोगों को इसे अदा करने का मुकम्मल तरीका याद नहीं रहता.

उन्होंने बताया कि ईद आगामी 25 मई को होने की सम्भावना है. इस्लामिक सेंटर आफ इंडिया अब अगली 20 मई से रोजाना अपने वेब पेज पर ईद की नमाज पढ़ने का तरीका बताएगा, ताकि लोगों को याद हो जाए. इसमें यह बताया जाएगा कि घर पर ईद की नमाज कैसे अदा करें. यह सिलसिला ईद की नमाज तक चलेगा. इसके लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में मुस्लिम लोगों को वेबपेज का लिंक भेजा जाएगा.

मौलाना रशीद ने कहा कि इस नमाज से पहले और बाद में पढ़ा जाने वाला खुत्बा सुनना जरूरी होता है. चूंकि अक्सर लोगों को खुत्बे के बारे में जानकारी नहीं होती है, इसलिए इसे भी वेब पेज के जरिए बताया जाएगा. ताकि आपकी नमाज भी हो जाए और खुत्बा भी. इससे व्यक्ति को इस बात की संतुष्टि भी हो जाएगी कि उसने ईद की नमाज अदा कर ली है.

उन्होंने कहा कि ईद की नमाज से पहले उर्दू में पढ़ा जाने वाला खुत्बा ऑनलाइन दिया जाएगा. मगर नमाज के बाद अरबी में पढ़ा जाने वाला खुत्बा आपको खुद देना होगा. उसका सबसे आसान तरीका यह है कि आप दूसरे खुत्बे में दुरूद शरीफ और सूरे अस्र पढ़ लें. इससे खुत्बा पूरा माना जाएगा. ऐसी आपात स्थिति में ईद की नमाज अदा करने और खुत्बा पढ़ने-सुनने का यही रास्ता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मौलाना रशीद ने बताया कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण घोषित लॉकडाउन का सभी मुसलमानों को हर हाल में पालन करना चाहिए. ईद की नमाज के मामले में भी इसी नियम पर चलना होगा. इसी वजह से ICI ने लॉकडाउन के बीच ईद की नमाज घर में ही अदा करने के सिलसिले में पिछले दिनों एक फतवा भी जारी किया था.

गौरतलब है कि लॉकडाउन के बीच मस्जिदें बंद होने के कारण इस बार रमजान में पढ़ी जाने वाली तरावीह की नमाज भी घरों में ही अदा की गई. इस नमाज में कम से कम एक कुरान शरीफ सुनना जरूरी है. ICI ने इसके लिए अपने वेब पेज पर लोगों को कुरान शरीफ सुनाई थी.