मुंबई में 28,000 से ज्यादा प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ समाप्त हुआ गणपति उत्सव

एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. प्रतिमा विसर्जन की शुरुआत मंगलवार सुबह से ‘अनंत चतुर्दशी’ के मौके पर हुई, जो उत्सव का समापन दिन था. हालांकि बुधवार तड़के तक भक्त प्रतिमा विसर्जन करते रहे.

मुंबई में 28,000 से ज्यादा प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ समाप्त हुआ गणपति उत्सव

मंगलवार को समाप्त हुआ गणपित उत्सव.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस महामारी के कारण इस साल गणेशोत्सव त्योहार बेहद सामान्य तरीके से मनाया गया और 11 दिन तक चलने वाले इस त्यौहार का मुंबई 28 हजार से अधिक प्रतिमा विसर्जन के साथ समापन हो गया. एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. प्रतिमा विसर्जन की शुरुआत मंगलवार सुबह से ‘अनंत चतुर्दशी' के मौके पर हुई, जो उत्सव का समापन दिन था. हालांकि बुधवार तड़के तक भक्त प्रतिमा विसर्जन करते रहे.

बृहन्मुंबई महानगरपालिका के एक अधिकारी ने बताया कि कुल 28,293 प्रतिमाओं का विसर्जन बुधवार तड़के तीन बजे तक शहर की जल इकाईयों में हुआ. इनमें से 3,817 सार्वजनिक मंडलों में जबकि 24,476 प्रतिमायें घर में स्थापित की गई थीं.

Newsbeep

उन्होंने बताया कि इनमें से 13,742 प्रतिमाओं का विसर्जन इस उद्देश्य के लिए बनाए गए कृत्रिम तालाबों में किया गया. अधिकारी ने कहा, ‘‘ मूर्ति विसर्जन के दौरान कोई अमंगल घटना नहीं हुई.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर लोगों से अपील की थी कि वे सादे तरीके से गणपति उत्सव मनाएं. उन्होंने गणेश मंडलों से इस दौरान सामाजिक कल्याण से जुड़े कार्य करने की अपील की थी.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)