NDTV Khabar

Gita Jayanti 2019: 'कर्म से बढ़कर और कुछ नहीं', पढ़ें ऐसे ही गीता के 10 उपदेश

मनुष्य जिस मन से मेरा नाम लेता है मैं उसे वैसा ही फल देता हूं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Gita Jayanti 2019: 'कर्म से बढ़कर और कुछ नहीं', पढ़ें ऐसे ही गीता के 10 उपदेश

गीता के 10 उपदेशों

नई दिल्ली:

गीता एकादशी (Gita Jayanti) वो दिन है जब भगवान कृष्ण ने अर्जुन को श्रीमदभागवत गीता का उपदेश दिया था. कलयुग के प्रारंभ होने के 30 साल पहले कुरुक्षेत्र के मैदान में श्रीकृष्‍ण ने अर्जुन को जो उपदेश दिया था वह श्रीमद्भगवद् गीता के नाम से प्रसिद्ध है. श्रीमद्भगवद्गीता के18 अध्यायों में से पहले 6 अध्यायों में कर्मयोग, फिर अगले 6 अध्‍यायों में ज्ञानयोग और अंतिम 6 अध्‍यायों में भक्तियोग का उपदेश है. गीता एकादशी मोक्षदा एकादशी (Mokshada Ekadashi) के दिन पड़ती है जो कि ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार यह हर साल नवंबर या दिसंबर के महीने में आती है. इस बार गीता जयंती 8 दिसंबर को है. इसलिए यहां पर आपको गीता के 10 उपदेशों (Gita Upadesha) बताएं जा रहे हैं, क्योंकि श्रीमद्भगवद्गीता के श्लोक और उपदेश आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं. गीता के उपदेशों से अर्जुन को भगवान श्रीकृष्ण ने राह दिखाई थी, ठीक आज भी इन उपदेशों को पढ़कर मनुष्यों को रास्ता मिल जाता है. 

कर्म करो और फल की चिंता मत करो

t1lumhk

आत्मा न शस्त्र से कटती और ना आग से जलती है

f3t0jd1o

कर्म से बढ़कर और कुछ नहीं

r5pac6g8

बुद्धि का नाश होने पर मनुष्य खुद का नाश कर बैठता है

2shdinro

जब-जब अधर्म बढ़ेगा, तब-तब मैं अवतार लूंगा

em8iujb

धर्म की स्थापना के लिए मैं प्रत्येक युग में जन्म लेता आया हूं

5ts1dj8g

श्रेष्ठ पुरुष जो काम करते हैं, आम इंसान भी वैसा ही कार्य करते हैं

2i6rq67g

इन्द्रियों पर संयम रखने वाले मनुष्यों को ही शान्ति की प्राप्ति होती है

8ka0m5ko
टिप्पणियां

शोक मत करो, मेरी शरण में आओ, मैं  तुम्हें सभी पापों से मुक्ति दिला दूंगा

3pg3221g

मनुष्य जिस मन से मेरा नाम लेता है मैं उसे वैसा ही फल देता हूं

65uoq51g


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Republic Day 2020 Hindi Shayari: एक-दूसरे को इन शायरी से दें गणतंत्र दिवस की बधाई

Advertisement