Budget
Hindi news home page

जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर मलेशिया की अदालत में अपना मामला लड़ेगी भारतीय महिला

ईमेल करें
टिप्पणियां
जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर मलेशिया की अदालत में अपना मामला लड़ेगी भारतीय महिला

फाईल फोटो

कुआलालंपुर: मलेशिया में पूर्व पति द्वारा बच्चों को जबरन इस्लाम कबूल करवाने (धर्मांतरण) को रद्द करने के लिए लड़ रही एक भारतीय हिन्दू महिला ने कहा है कि वह अदालत के इस फैसले के खिलाफ अपील करेगी कि मुस्लिम धर्मांतरण से जुड़े मुद्दे पूरी तरह से शरिया अदालत के क्षेत्राधिकार में आते हैं।
 
पेशे से शिक्षिका एम इंदिरा गांधी के वकील एम कुलसेगरन ने कहा, ‘‘हम फेडरल कोर्ट में अपील करेंगे।’’ पिछले साल 30 दिसंबर को एक अपील पैनल कोर्ट ने फैसला सुनाया था कि कोई व्यक्ति मुस्लिम है या नहीं, इस मुद्दे का फैसला केवल शरिया अदालत करेगी।

----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- 
यह भी पढ़ें : लैंगिक भेदभाव के विरोध में 26 जनवरी को 400 महिलाएं करेंगी शनि शिंगनापुर मंदिर में प्रवेश
----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- ----- -----​

 
न्यायाधीशों ने कहा था, ‘‘यह पूरी तरह से धर्म का मामला है।’’ पैनल ने धर्मांतरण को रद्द करने के हाई कोर्ट के फैसले को निरस्त किया था।
 
इंदिरा के पूर्व पति मुहम्मद रिदुआन अब्दुल्ला ने वर्ष 2009 में बच्चों का इस्लाम में धर्मांतरण करा दिया था।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement