9 महीने बंद रहने के बाद खुला जगन्नाथ मंदिर, 3 जनवरी से श्रद्धालु कर पाएंगे दर्शन

26 से 31 दिसम्बर के बीच केवल पुरी के निवासी भगवान के दर्शन कर पाएंगे. इसके बाद नव वर्ष पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ होने के मद्देनजर एक और दो जनवरी को मंदिर को फिर बंद कर दिया जाएगा.

9 महीने बंद रहने के बाद खुला जगन्नाथ मंदिर, 3 जनवरी से श्रद्धालु कर पाएंगे दर्शन

9 महीने बंद रहने के बाद खुला जगन्नाथ मंदिर, 3 जनवरी से श्रद्धालु कर पाएंगे दर्शन

पुरी:

कोविड-19 (Covid 19) वैश्विक महामारी के मद्देनजर करीब 9 महीने बंद रहने के बाद आखिरकार श्री जगन्नाथ मंदिर (Jagannath Temple) बुधवार को दोबारा खुल गया, लेकिन लोग 5 जनवरी से ही यहां भगवान के दर्शन कर पाएंगे. अधिकारियों ने बताया, कि सेवकों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए सुबह 7 बजे मंदिर के द्वार खोले गए. इस दौरान कोविड-19 से जुड़े नियमों का सख्ती से पालन किया गया. उन्होंने बताया, कि वैश्विक महामारी के कारण मंदिर मध्य मार्च से बंद था. 12वीं शताब्दी के भगवान विष्णु (Lord Vishnu) के मंदिर के द्वार इतिहास में पहली बार भक्तों के लिए बंद किए गए थे. पुरी के कलेक्टर बलवंत सिंह ने पत्रकारों को बताया, कि पहले 3 दिन 23,24 और 25 दिसम्बर को केवल सेवकों और उनके परिवार के सदस्यों को दर्शन करने की अनुमति होगी.

दिसंबर के तीसरे सप्ताह से श्रद्धालुओं के लिए खुल सकता है पुरी का जगन्नाथ मंदिर: मंदिर प्रशासन


अधिकारियों ने बताया, कि 26 से 31 दिसम्बर के बीच केवल पुरी के निवासी भगवान के दर्शन कर पाएंगे. इसके बाद नव वर्ष पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ होने के मद्देनजर एक और दो जनवरी को मंदिर को फिर बंद कर दिया जाएगा. 3 जनवरी से मंदिर के द्वार सभी श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएंगे. उन्होंने बताया कि 3 जनवरी से आने वाले श्रद्धालुओं को कोरोना वायरस से संक्रमित ना होने की पुष्टि करने वाली रिपोर्ट दिखानी होगी. पुरी के निवासियों से कोविड-19 की जांच रिपोर्ट ना मांगे जाने के सवाल पर अधिकारी ने कहा, ‘‘ प्रशासन स्थानीय लोगों में कोरोना वायरस की स्थिति से अवगत है. इसलिए उन्हें संक्रमित ना होने की पुष्टि के लिए कोविड-19 की जांच रिपोर्ट दिखाने की जरूरत नहीं है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अहमदाबाद के जगन्नाथ मंदिर के मुख्य पुरोहित रथयात्रा नहीं निकलने से निराश, कही ये बात



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)