वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने शुरु की "पूजा प्रसाद" होम डिलीवरी सेवा

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (SMVDSB) ने सोमवार को देशभर में श्रद्धालुओं के लिए "पूजा प्रसाद" होम डिलीवरी सेवा की औपचारिक शुरुआत कर दी है.

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने शुरु की

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने शुरु की "पूजा प्रसाद" होम डिलीवरी सेवा

जम्मू:

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (SMVDSB) ने सोमवार को देशभर में श्रद्धालुओं के लिए "पूजा प्रसाद" होम डिलीवरी सेवा की औपचारिक शुरुआत कर दी है. आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा, कि सेवा जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की अध्यक्षता में एसएमवीडीएसबी की बैठक के दौरान शुरू की गई थी, जो जम्मू में राजभवन में एसएमवीडीएसबी (SMVDSB) के अध्यक्ष भी हैं. प्रवक्ता ने कहा, कि श्रद्धालु तीन चोटी वाले पहाड़ों के बीच स्थित जिस तीर्थस्थल के दर्शन करने में असमर्थ हैं, उसे "त्रिकुटा" के नाम से जाना जाता है. "पूजा प्रसाद" को घर पर पहुंचाने के लिए भक्त एसएमवीडीएसबी वेबसाइट के माध्यम से बुकिंग कर सकता है.  

यह भी पढ़ें- करीब 5 महीने बाद खुले वैष्णोदेवी मंदिर के द्वार, दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालु

एक बार बुकिंग हो जाने के बाद  श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड यह सुनिश्चित करेगा कि 72 घंटों के भीतर "पूजा" की जाए और "प्रसाद" को स्पीड पोस्ट के माध्यम से भेजा जाए. प्रवक्ता ने कहा, कि अब तक लगभग 1,500 "पूजा प्रसाद" पैकेट बोर्ड द्वारा देश भर के भक्तों को स्पीड पोस्ट से भेजे जा चुके हैं, जिसके लिए बोर्ड ने डाक विभाग के साथ समझौता किया है. एलजी की अध्यक्षता में बोर्ड की बैठक में एसएमवीडीएसबी सदस्यों ने भाग लिया, जिसमें श्री श्री रविशंकर, पूर्व डीजीपी डॉ. अशोक भान, न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) परमोद कोहली, केके शर्मा, मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) शिव कुमार शर्मा और के बी कचरू शामिल हुए. बोर्ड ने सीईओ रमेश कुमार द्वारा तीर्थयात्रियों, कर्मचारियों और जनता की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कोरोनोवायरस प्रकोप के मद्देनजर आवश्यक एहतियाती उपायों की भी समीक्षा की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें- केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा: कटरा-दिल्ली एक्सप्रेस रोड कॉरिडोर 2023 तक पूरा होगा

प्रवक्ता ने कहा, कि एलजी ने जमीनी स्थिति के वस्तुनिष्ठ आकलन के आधार पर केंद्र शासित प्रदेश के बाहर से तीर्थयात्रियों की संख्या में वृद्धि के लिए सीईओ को निर्देशित किया. सीईओ ने कहा, कि माता वैष्णो देवी की गुफा की यात्रा 16 अगस्त से शुरू हुई है और सभी भक्त अब विशेष पूजा अर्चना कर सकते हैं और अन्य अनुष्ठान भी कर सकते हैं। बोर्ड ने अपनी प्रमुख अवसंरचना विकास परियोजनाओं की एक व्यापक समीक्षा भी की. एलजी ने आने वाले तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए समयबद्ध तरीके से चल रहे कार्यों को पूरा करने के लिए सीईओ को निर्देशित किया.