NDTV Khabar

Kumbh Mela Quiz 2019: कुंभ मेले का आयोजन उत्‍तर प्रदेश के किस शहर में होता है?

Kumbh Mela 2019: कुंभ 2019 (Kumbh 2019), 14 जनवरी मकर संक्रांति (Makar Sankranti) से शुरू होने वाले हैं. ये 4 मार्च को महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) तक यानी 50 दिनों तक कुंभ चलने वाला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Kumbh Mela Quiz 2019: कुंभ मेले का आयोजन उत्‍तर प्रदेश के किस शहर में होता है?

कुंभ क्विज़ 2019: यूपी के किस शहर में Kumbh Mela लगता है?

नई दिल्ली:

Kumbh Mela 2019: कुंभ मेला के आयोजन का भव्‍य इंतजाम किया गया है. प्रशासन काफी मुस्‍तैदी से इसके आयोजन में लगा हुआ है. कुंभ का शाब्दिक अर्थ है होता है कलश और यहां ‘कलश' का संबंध अमृत कलश से है. ऐसी मान्‍यता है कि जब देवासुर संग्राम के बाद दोनों पक्ष समुद्र मंथन को राजी हुए थे तब मंदराचल पर्वत इसके लिए मथनी बना था और नाग वासुकी उसकी नेति. मंथन से चौदह रत्नों की प्राप्ति हुई थी जिन्हें आपस में बांट लिया गया परन्तु जब धन्वन्तरि ने अमृत कलश देवताओं को दे दिया तो फिर युद्ध की स्थिति उत्पन्न हो गई.

कुंभ 2019: जानिए मकर संक्रांति से महा शिवरात्रि तक, कुंभ मेले की सभी प्रमुख स्नान तिथियां 

बीच में भगवान विष्णु को मोहिनी रूप धारण कर आना पड़ा. देव दानव दोनों इस बात से सहमत हो गए कि मोहिनी अमृत-पान कराएगी. अमृत कलश को सुरक्षित देवलोक पहुंचाने का काम इंद्र के पुत्र जयंत को सौंपा गया. अमृत-कलश को लेकर जब जयंत दानवों से इसकी रक्षा करने के लिए भाग रहा था तभी इसी क्रम में अमृत की बूंदे पृथ्वी पर चार स्थानों पर गिरी.


कुंभ जाने वालों के लिए 4 सबसे बढ़िया पैकेज, कीमत के साथ जानें पूरी डिटेल

चूंकि विष्‍णु की आज्ञा से सूर्य, चन्द्र, शनि एवं बृहस्पति भी अमृत कलश की रक्षा कर रहे थे और विभिन्न राशियों (सिंह, कुम्भ एवं मेष) में विचरण के कारण ये सभी कुंभ पर्व के सूचक बन गए. इस प्रकार ग्रहों एवं राशियों की सहभागिता के कारण कुंभ पर्व ज्योतिष का पर्व भी बन गया.

टिप्पणियां

जयंत को अमृत कलश को स्वर्ग ले जाने में 12 दिन का समय लगा था. माना जाता है कि देवताओं का एक दिन पृथ्वी के एक वर्ष के बराबर होता है. यही कारण है कि कालान्तर में वर्णित स्थानों पर ही ग्रह-राशियों के विशेष संयोग पर 12 वर्षों में कुम्भ मेले का आयोजन होता है. वहीं, प्रयागराज (पहले इलाहाबाद) में हर 6 वर्ष में भी कुंभ मेले का आयोजन होता है.

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement