NDTV Khabar

मकर संक्रांति- 3,000 पुलिसकर्मियों और 500 सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी

कोलकाता से लगभग 150 किलोमीटर दूर दक्षिण 24 परगना जिले में गंगासागर द्वीप हिंदुओं द्वारा शुभ माना जाता है. समुदाय के लोग मकर संक्रांति के दिन पवित्र स्नान के लिए यहां इकट्ठा होते हैं और कपिल मुनि मंदिर में नारियल का भोग भी लगाते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मकर संक्रांति- 3,000 पुलिसकर्मियों और 500 सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी

मकर संक्रांति पर लाखों श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाई

खास बातें

  1. पांच लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी
  2. कपिल मुनि मंदिर में नारियल का भोग लगाया
  3. 500 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए
नई दिल्ली: मकर संक्रांति के मौके पर सिर्फ इलाहाबाद के संगम पर ही नहीं बल्कि कोलकाता में भी लाखों श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाई. इस दिन पांच लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने गंगा में उस जगह डुबकी लगाई जहां नदी बंगाल की खाड़ी में गिरती है. हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी कड़ी ठंड के बावजूद सुबह से ही वार्षिक गंगासागर मेले में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली.

माघ मेला 2018: भारी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु, 6 स्नान पर्वों की तैयारी

कोलकाता से लगभग 150 किलोमीटर दूर दक्षिण 24 परगना जिले में गंगासागर द्वीप हिंदुओं द्वारा शुभ माना जाता है. समुदाय के लोग मकर संक्रांति के दिन पवित्र स्नान के लिए यहां इकट्ठा होते हैं और कपिल मुनि मंदिर में नारियल का भोग भी लगाते हैं.

तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए सरकार ने करीब 3,000 पुलिसकर्मियों और सात ड्रोन की तैनाती की.

15 हजार किलो सोने से बना है ये मंदिर, रोज़ाना दर्शन करते हैं लाखों भक्त

मेले के दौरान बेहतर कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए अधिकारी सैटेलाइट फोन से लैस हैं.

कोलकाता में बाबूघाट से सागर द्वीप तक 100 किलोमीटर के मार्ग पर 500 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं.

टिप्पणियां
लगभग 55 विशाल एलईडी स्क्रीन यात्रियों को ट्रेनों, बसों, नौकाओं, ज्वार के समय एवं सुरक्षा सावधानियों से अवगत करा रहे हैं.

देखें वीडियो - देशभर में मकर संक्रांति और पोंगल का उल्लास
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement