NDTV Khabar

31 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई गंगासागर में डुबकी, मकर संक्रांति पर मना ऐसा जश्न

दक्षिण 24 परगना जिले में कोलकाता से लगभग 150 किमी दूर यह द्वीप हिंदुओं द्वारा शुभ माना जाता है. वे साल के इस समय यहां इकट्ठा होते हैं और गंगा और बंगाल की खाड़ी के संगम पर पवित्र स्नान करते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
31 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई गंगासागर में डुबकी, मकर संक्रांति पर मना ऐसा जश्न

बंगाल : मकर संक्रांति पर गंगासागर में 30 लाख श्रद्धालुओं ने किया स्नान

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप में मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के मौके पर वार्षिक गंगासागर मेला (Gangasagar Mela) में देश-विदेश के तीस लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने स्नान किया. पंचायत एवं जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने बताया, "सुबह से करीब 31 लाख लोगों ने सागर में स्नान किया है. यह संख्या बीते साल से अधिक है. इस साल मौसम बेहतर रहने के कारण अधिक तीर्थयात्री सागर आए हैं. दिन चढ़ने के साथ हम ज्यादा संख्या में लोगों के आने की उम्मीद कर रहे हैं." 

उन्होंने कहा, "हमने राज्य सरकार की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. दूर से आए लोगों और बुजुर्गों के लिए अस्थायी आश्रय स्थल बनाए गए हैं. परिसर को साफ रखने के मद्देनजर हमने तीर्थयात्रियों के लिए 2000 के करीब स्टेशनरी शौचालय भी बनवाए हैं."

मकर संक्रांति से शुरू हुआ Kumbh 2019 का पहला शाही स्नान, Photos में देखें ये खूबसूरत नज़ारा


दक्षिण 24 परगना जिले में कोलकाता से लगभग 150 किमी दूर यह द्वीप हिंदुओं द्वारा शुभ माना जाता है. वे साल के इस समय यहां इकट्ठा होते हैं और गंगा और बंगाल की खाड़ी के संगम पर पवित्र स्नान करते हैं और कपिल मुनि मंदिर (Kapil Muni Temple) में नारियल चढ़ाकर पूजा-अर्चना करते हैं.

राज्य सरकार और भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) द्वारा इस क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है.

श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए बीस ड्रोन और 800 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जबकि आईसीजी ने समुद्र तट के किनारे होवरक्राफ्ट, हाई-स्पीड गश्ती जहाजों और इंटरसेप्टर नौकाओं को तैनात कर रखा है.

Kumbh 2019 Photos: कुंभ मेले के पास मौजूद हैं ये प्रसिद्ध 11 जगहें, जाएं तो घूमें जरूर

उत्तर-पूर्वी तटरक्षक अधिकारी ने कहा कि मेला चलने तक होवरक्राफ्ट को चौबीसों घंटे तैनात रखा जाएगा. 

उन्होंने कहा कि इसके अलावा, गोताखोरों के साथ रबर जेमिनी नौकाओं से युक्त एक जीवन रक्षक रैपिड एक्शन टीम किसी खतरे को टालने और श्रद्धालुओं को डूबने से बचाने के लिए तैनात रहेगी. 

क्षेत्र में विभिन्न विशाल एलईडी स्क्रीन को विभिन्न पड़ावों पर लगाया गया है, जिसके माध्यम से तीर्थयात्रियों को ट्रेनों, बसों और नौकाओं के समय के साथ-साथ ऐहितयात के तौर पर ज्वार-भाटा आने के बारे में भी पता चल सके.

कुंभ क्विज़

Kumbh Mela Quiz 1: कुंभ मेले का आयोजन उत्‍तर प्रदेश के किस शहर में होता है?

Kumbh Mela Quiz 2: किस मेले में बिछड़ने की कहानियां बहुत प्रचलित हैं?

Kumbh Mela Quiz 3: 'कुंभ' का शाब्‍द‍िक अर्थ क्‍या होता है?

Kumbh Mela Quiz 4: कुंभ में शामिल होने वाले 'शैव अखाड़े' के इष्‍ट देव कौन हैं?

Kumbh Mela Quiz 5: कुंभ का पहला स्नान किस पर्व के दिन होता है?

Kumbh Mela Quiz 6: प्रयागराज में किन तीन नदियों का संगम होता है?

टिप्पणियां

VIDEO: मकर संक्रांति पर आस्था की डुबकी 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement