NDTV Khabar

नाग पंचमी 2017: क्या हैं इस त्योहार से जुड़ी मान्यताएं और रिवाज...

मान्यताओं के अनुसार इस दिन नागों की पूजा की जाती है और उन्हें दूध पिलाया जाता है. अलग अलग जगहों पर इस त्योहार की अनेक कहानियां, मान्यताएं और रिवाजें हैं. एक नजर इस दिन से जुड़ी मान्यताओं और रिवाजों पर..

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नाग पंचमी 2017: क्या हैं इस त्योहार से जुड़ी मान्यताएं और रिवाज...
टिप्पणियां

नाग पंचमी हिंदू धर्म का एक अहम पर्व है. इस दिन औरतें नाग देवता को अपने भाई के रूप में पूजती हैं और मनोकामना पूरी करने के लिए प्रार्थना करती हैं. आज पूरे भारत में नागपंचमी मनाई जा रही है. हिंदू पंचांग के मुताबिक सावन महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी को नाग पंचमी के रूप में मनाया जाता है. मान्यताओं के अनुसार इस दिन नागों की पूजा की जाती है और उन्हें दूध पिलाया जाता है. अलग अलग जगहों पर इस त्योहार की अनेक कहानियां, मान्यताएं और रिवाजें हैं. एक नजर इस दिन से जुड़ी मान्यताओं और रिवाजों पर... 

Nag Panchami 2017: क्यों नाग को भाई बनाती हैं औरतें, क्या है नागपंचमी की कथा और उसके पीछे का औचित्य...


  • मान्यता है कि महर्षि कश्यप और उनकी पत्नी कद्रू से नागों का उद्गम होआ था. 

  • नाग पंचमी के दिन सुबह सुबह स्नान कर साफ-सुथरे कपड़े पहन कर पूजा की जाती है. इस दिन सेंवई और चावल बनाने का रिवाज है. 

  • कई जगहों पर नागपंचमी के दिन बासी भोजन लेने का रिवाज है. इसके लिए नागपंचमी से पहली रात को ही खाना बना कर रख लिया जाता है, जिसे नागपंचमी के दिन खाया जाता है. 

आखि‍र क्यों सिर्फ नागपंचमी पर ही खुलते हैं इस शिव मंदिर के कपाट

  • नाग पंचमी के दिन दीवार को गेरू से पोता जाता है. दीवार के जिस हिस्से पर गेरू लगाया जाता है उस पर कोयला घिस कर नाग देवता की आकृति बनाने की मान्यता है.

  • रिवाज है कि सोने, चांदी या लकड़ी की कलम से दरवाजे पर हल्दी या चन्दन से पांच फनों वाले नागदेवता का चित्र बनाया जाना शुभ है.

  • दीवार पर बने नागदेवताओं की दही, दूर्वा, चावल, दूर्वा, सेमई, फूल और चंदन से पूजा जाता है. 

नागपंचमी विशेष: क्यों माना गया है नाग को देवता

  • इस दिन कई जगहों पर लोग नागों की बॉबी पर दूध चढ़ाते हैं. 

  • मान्यता है कि कुण्डली में कालसर्प दोष होने पर इस दिन ''ऊॅ कुरूकुल्ले फट स्वाहा'' मंत्र का जाप करने से लाभ होता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement