NDTV Khabar

पोप फ्रांसिस ने छोटी सोच वाले कैथोलिकों को जमकर लताड़ा

कैथोलिक गर्भपात-विरोधी कार्यकर्ताओं को फटकार लगाते हुए पोप फ्रांसिस ने कहा कि गरीबों और आव्रजकों की मदद करना उतना ही महत्वपूर्ण है, जितना गर्भपात के खिलाफ एक पक्ष लेना.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पोप फ्रांसिस ने छोटी सोच वाले कैथोलिकों को जमकर लताड़ा

पोप फ्रांस‍िस ने उन लोगों को आड़े हाथों ल‍िया जो गर्भपात का व‍िरोध करते हैं

खास बातें

  1. पोप फ्रांसिस ने गर्भपात का विरोध करने वालों को लताड़ा
  2. उन्‍होंने दुनिया को उन लोगों से चेताया जो पवित्रता का चोला ओढ़ते हैं
  3. पोप ने कहा कि गरीबों की मदद करना महत्‍वपूर्ण है
नई द‍िल्‍ली : पोप फ्रांसिस ने संकीर्ण सोच वाले कैथोलिकों को फटकार लगाई और दुनिया को आधुनिक पवित्रता का नया चोला ओढ़े शैतानों को लेकर चेतावनी दी, जिसका खुलासा वैटिकन ने किया है. सीएनएन की खबर के मुताबिक, 100 पन्नों वाली पुस्तक, जिसका शीर्षक 'रिजॉयस एंड बी ग्लैड : ऑन द कॉल टू हैपीनेस इन टूडे वर्ल्ड' सोमवार को जारी की गई. पोप फ्रांसिस ने कैथोलिकों को दैनिक जीवन में पवित्रता तक पहुंच बनाने के लिए प्रोत्साहित किया और वफादारों से 'संत आपके द्वार' बनने के लिए आग्रह किया.

ये थे ईसा मसीह के अंतिम शब्‍द 

कैथोलिक गर्भपात-विरोधी कार्यकर्ताओं को फटकार लगाते हुए फ्रांसिस ने कहा कि गरीबों और आव्रजकों की मदद करना उतना ही महत्वपूर्ण है, जितना गर्भपात के खिलाफ एक पक्ष लेना. 

उन्होंने लिखा, 'कुछ कैथोलिकों को लगता है कि गंभीर नैतिकता से जुड़े सवालों की तुलना में यह (आव्रजकों की समस्या) एक कम महत्व का मुद्दा है.' उन्होंने कहा, 'ऐसा करना वोटों के लिए भागने वाले राजनेताओं जैसा है.'

जानिए गुड फ्राइडे के बारे में सबकुछ

टिप्पणियां
पोप ने लिखा, 'उदाहरण के तौर पर बेगुनाह गर्भस्थ के लिए हमारा बचाव स्पष्ट, मजबूत और आवेशपूर्ण होने की जरूरत है.' उन्होंने कहा, 'गरीबों की जिंदगियां, जो जन्म ले चुके हैं, निराश्रय, त्यागे हुए और वंचितों के लिए समान समर्पित भावना होनी चाहिए.'

सीएनएन की खबर के मुताबिक, पोप फ्रांसिस ने पहले गर्भपात और समलैंगिकता के मुद्दे के साथ मनोग्रहीत होने का दावा करने वालों की आलोचना की थी. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement