राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देशवासियों को लोहड़ी, मकर संक्रांति और पोंगल पर्व की शुभकामनाएं दी

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देशवासियों को लोहड़ी, मकर संक्रांति और पोंगल पर्व की शुभकामनाएं दी

लोहड़ी, मकर संक्रांति तथा पोंगल फसल कटाई के बाद उल्लास तथा समृद्धि का त्योहार है: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को देशवासियों को लोहड़ी, मकर संक्रांति और पोंगल पर्व की बधाई दी। एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, "लोहड़ी, मकर संक्रांति तथा पोंगल के मौके पर मैं देशवासियों तथा विदेशों में रहने वाले भारतीयों को हार्दिक बधाई तथा शुभकामनाएं देता हूं।"

लोहड़ी 2017 : जानिए क्यों मनाया जाता है यह त्यौहार और क्या है इससे जुड़ी अनूठी मान्यताएं
 
उन्होंने कहा, "लोहड़ी, मकर संक्रांति तथा पोंगल फसल कटाई के बाद उल्लास तथा समृद्धि का त्योहार है। "कामना करता हूं कि ये पर्व हमारे देश के सभी समुदायों के वर्गो को प्रेम, सहानुभूति तथा खुशी के बंधन में बांधे।"

जानिए कैसे मनाते हैं पोंगल पर्व, क्या-क्या होता है इस दिन और क्या है इसका इतिहास
 
राष्ट्रपति ने कहा, "हमारे किसानों के कठिन परिश्रम तथा धरती मां के प्रति आभार जताने को लेकर ये पर्व लोगों के जीवन में खुशी, शांति तथा समृद्धि लाए।"

लोहड़ी 2017 स्पेशल: जानिए क्या है पंजाब के लोक नायक दुल्ला भट्टी की कहानी 

गौरतलब है कि लोहड़ी शुक्रवार को, जबकि मकर संक्रांति व पोंगल शनिवार को मनाया जाएगा। जहां लोहड़ी उत्तर भारत, विशेषकर पंजाब, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली में अधिक लोकप्रिय है, वहीं पोंगल दक्षिण भारत, खासकर तमिलनाडु और केरल में मनाया जाता है.

Newsbeep

सूर्य उपासना का विशेष पर्व है मकर संक्रांति, जानिए कहां-कहां कैसे मनाया जाता है यह त्यौहार
 
मकर संक्रांति या उत्तरायण पर्व किसी न किसी रूप में सम्पूर्ण भारत में मनाया जाता है. उत्तर प्रदेश और बिहार में इसे खिचड़ी भी कहते हैं. इस दिन अनेक लोग नदियों में स्नान कर दान पुण्य करते हैं.
 
मकर संक्रांति पर बंगाल की खाड़ी और गंगा के मुहाने पर लगने वाला गंगासागर मेला विश्व प्रसिद्ध है, जहां पूरी दुनिया से लोग आते है. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भी एक विशाल मेला लगता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आस्था सेक्शन से जुड़े अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.
 
इनपुट PIB से भी...