Ayodhya Ram Mandir: 5 अगस्त को है राम मंदिर का भूमि पूजन, जानें शुभ मुहूर्त और कार्यक्रम से जुड़ी डिटेल्स

Ayodhya Ram Mandir Bhoomi Pujan: माना जाता है कि भगवान हनुमान के आशीर्वाद के बिना भगवान राम (Lord Ram) का कोई काम शुरू नहीं किया जाता है. इस वजह से पीएम मोदी पहले हनुमान भगवान की पूजा करेंगे और उसके बाद भूमि पूजन के लिए जाएंगे.

Ayodhya Ram Mandir: 5 अगस्त को है राम मंदिर का भूमि पूजन, जानें शुभ मुहूर्त और कार्यक्रम से जुड़ी डिटेल्स

Ayodhya Ram Mandir Bhoomi Pujan: 5 अगस्त को पीएम मोदी रखेंगे राम मंदिर की नींव.

खास बातें

  • 5 अगस्त को है राम मंदिर भूमि पूजन
  • दोपहर को कुछ ही देर का है शुभ मुहूर्त
  • पीएम मोदी करेंगे मंदिर का शिलान्यास
नई दिल्ली:

Ram Mandir Bhumi Pujan: अयोध्या में राम जन्मभूमि (Ram Janambhumi) स्थल पर मंदिर निर्माण का शुभारंभ किए जाने से पहले 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर की आधारशिला (Ground-Breaking Ceremony) भी रखेंगे और मंदिर के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया जाएगा. इस कार्यक्रम के लिए कई दिन पहले से अयोध्या को सजाने का कार्य शुरू कर दिया गया था.

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) इस कार्यक्रम के लिए कुल 3 घंटे अयोध्या में रहेंगे. मंदिर के भूमि पूजन और शिलान्यास से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हनुमानगढ़ी पर पूजा करेंगे. दरअसल, माना जाता है कि भगवान हनुमान के आशीर्वाद के बिना भगवान राम (Lord Ram) का कोई काम शुरू नहीं किया जाता है. इस वजह से पीएम मोदी पहले हनुमान भगवान की पूजा करेंगे और उसके बाद भूमि पूजन के लिए जाएंगे.

भूमि पूजन का शुभ मुहूर्त
दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को दोपहर 12 बजे राम जन्मभूमि परिसर पहुंचेंगे. इसके बाद वह 10 मिनट में रामलला विराजमान का दर्शन-पूजन करेंगे. इसके बाद वह दोपहर को 12 बजकर 44 मिनट और 15 सेकंड पर मंदिर की आधारशिला की स्थापना करेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

भूमि पूजन से पहले का कार्यक्रम
दरअसल, 5 अगस्त को राम मंदिर भूमि पूजन पहले 4 अगस्त यानी कि आज मंगलवार को रामार्चन पूजा शुरू हो गई है. रामार्चन पूजा सभी प्रमुख देवी और देवताओं को भगवान राम के पधारने से पहले न्योता देने के लिए की जाने वाली पूजा है. इस पूजा को कई चरणों में किया जा रहा है. पहले चरण में राम के अलावा अन्य देवी-देवताओं की पूजा की जा रही है. दूसरे चरण में अयोध्या की पूजा होगी. इसके अलावा नल-नील, सुग्रीव की पूजा होगी. तीसरे चरण में दशरथ, उनकी रानियों, राम के सभी भाइयों और उनकी पत्नी की पूजा की जाएगी और अंत में भगवान राम का आह्वान किया जाएगा.

बता दें, कि 5 अगस्त को न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर में भी दिन भर भगवान राम के चित्र और राम मंदिर के मॉडल को प्रदर्शित किया जाएगा.