रमजान के पूरे महीने इस देश में घूमेंगे F-16 और T50i फाइटर प्लेन्स, जानिए क्या है वजह

रमजान का महीना 30 दिनों तक चलता है. 30 दिनों के रोज़ों के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फितर (Eid al-Fitr) का त्योहार मनाया जाएगा. इसे मीठी ईद (Mithi Eid) भी कहा जाता है.

रमजान के पूरे महीने इस देश में घूमेंगे F-16 और T50i फाइटर प्लेन्स, जानिए क्या है वजह

खास बातें

  • इंडोनेशिया के जावा द्वीप में घूम रहे हैं प्लेन्स
  • F-16 और T50i जेट फाइटर्स प्लेन्स का हो रहा है इस्तेमाल
  • रमजान का महीना 30 दिनों तक चलेगा
इंडोनेशिया:

रमज़ान (Ramadan) का पाक महीना चल रहा है. इस दौरान मुस्लिम सिर्फ सुबह की सेहरी (Sehri, Suhur या Suhoor) और शाम की इफ्तारी (Iftar) ही खाते हैं. इस बीच पानी तक नहीं पीते. रोज़े का समय सुबह फजर की नमाज़ से शुरू होकर शाम को मग़रिब की नमाज़ तक होता है. मग़रिब की नमाज़ के बाद ही रोजेदार अपना रोज़ा खोलते हैं. सेहरी का समय सुबह करीब 4 बजे का होता है, इस दौरान रोजदारों को जागने में कोई परेशानी ना हो, इसलिए इंडोनेशिया में एक कमाल का तरीका अपनाया जा रहा है. 

इंडोनेशिया में किसी भी मुस्लिम को सुबह सेहरी के लिए देरी ना हो इसलिए यहां की एयर फोर्स ने अनोखी तरकीब निकाली है. इंडोनेशियन एयर फोर्स की टीम अपनी ट्रेनिंग के साथ-साथ सुबह सेहरी के लिए लोगों को जगा रही है. 

Ramadan 2019: सेहरी और इफ्तार का सही समय, रोजेदार देखें यहां

इसके लिए ये एयर फोर्स अपने जेट फाइटर्स प्लेन्स F-16 और T50i का इस्तेमाल कर रही है. इनका कहना है कि इन फाइटर प्लेन्स के शोर से लोग जल्दी उठेंगे और उनको सेहरी के लिए देरी नही होगी. 

इसके साथ ही एयर फोर्स के मेडिकल एक्सपर्ट का भी कहना है कि सुबह जल्दी ट्रेनिंग से इन फाइटर पायलट्स का ब्लड शुगर लेवल भी सही बना रहेगा.  

इन मैसेज से अपने करीबियों को दे रमज़ान की बधाई

ये फाइटर प्लेन्स इंडोनेशिया के जावा द्वीप के पास मौजूद कुछ ही शहरों में उड़ रहे हैं. इनमें सुराबया, सुराकर्ता, क्लातेन (Klaten), स्राजेन (Sragen) और योग्यकर्ता शामिल हैं.

बता दें, रमजान का महीना 30 दिनों तक चलता है. 30 दिनों के रोज़ों के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फितर (Eid al-Fitr) का त्योहार मनाया जाएगा. इसे मीठी ईद (Mithi Eid) भी कहा जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: रमजान में वोटिंग पर कोई असर नहीं: ओवैसी