NDTV Khabar

केदारनाथ में पुनर्विकास का काम अंतिम चरण में, बड़ी संख्या में पर्यटक आने की उम्मीद

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केदारनाथ में पुनर्विकास का काम अंतिम चरण में, बड़ी संख्या में पर्यटक आने की उम्मीद
नयी दिल्ली:

वर्ष 2013 में जून में आई भयानक बाढ़ से प्रभावित केदारनाथ एवं अन्य तीर्थस्थानों पर पुनर्विकास का कार्य अब समाप्ति की ओर है और राज्य सरकार को इस साल बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने की उम्मीद है।

केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने आज बताया कि केंद्र सरकार उत्तराखंड में धार्मिक पर्यटन के विकास को लेकर प्रतिबद्ध है विशेष तौर पर केदारनाथ में। राज्य प्रशासन इस ऐतिहासिक स्थान पर पुनर्विकास कार्य खत्म कर चुका है।

टिप्पणियां

केदारनाथ के पुनर्विकास पर वृत्तचित्र
केदारनाथ के पुनर्विकास पर एक वृत्तचित्र (डॉक्यूमेंट्री) और एक पत्रिका ‘हिल मेल’ का विमोचन करते हुए शर्मा ने कहा, ‘‘इस ऐतिहासिक मंदिर का वैभव वापस लाने के लिए हम उत्तराखंड सरकार के साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं।’’ उत्तराखंड पुनर्विकास कार्य के अंतिम चरण में है।
राज्य के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि इस साल वह रिकॉर्ड संख्या में पर्यटकों के आने की उम्मीद कर रहे हैं।


सोनप्रयाग से केदारनाथ के बीच में छह हैलीपैड
सोनप्रयाग से केदारनाथ के बीच में छह हैलीपैड तैयार किए गए हैं ताकि भविष्य में आपदा के दौरान बचाव अभियान चलाने में आसानी हो। पर्यटकों के लिए सोनप्रयाग में 300 कारों की पार्किंग तैयार की गई है।
मुख्यमंत्री का जोर केदारनाथ में आपदा आने के बाद से क्षेत्र में रोजगार पैदा करने को लेकर है जिसके लिए सरकार ने एक समग्र योजना बनाई है।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement