इस राज्य के स्कूलों में अब भगवद गीता सहित अन्य धर्मों की सीखों के बारे में पढ़ेंगे छात्र

इस राज्य के स्कूलों में अब भगवद गीता सहित अन्य धर्मों की सीखों के बारे में पढ़ेंगे छात्र

चंडीगढ़:

हरियाणा सरकार ने कहा है कि भगवद गीता के साथ-साथ अन्य धर्मों की सीखों से जुड़े पाठ राज्य के सरकारी स्कूलों में मौजूदा शैक्षणिक सत्र में पढ़ाए जाएंगे। गौरतलब है कि गीता को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने के प्रस्ताव पर विपक्षी पार्टियों ने राज्य की भाजपा सरकार की आलोचना की थी।
 
पांच जुलाई को कुरूक्षेत्र में पेश की जाएगी किताब...
गुड़गांव स्थित राज्य शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) की निदेशक स्नेहलता ने कहा, ‘‘एक किताब, जिसमें ‘गीता’ पर एक अध्याय शामिल होगा, पांच जुलाई को कुरूक्षेत्र में पेश की जाएगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘किताब तैयार है और पांच जुलाई को उसे पेश किया जाएगा।’’
 
छठी कक्षा से उपर के छात्रों को पढ़ायी जाएगी गीता...
उन्होंने कहा, ‘‘हिंदी में लिखी गई इस किताब में एक अध्याय गीता का भी होगा। इस्लाम, ईसाई धर्म सहित अन्य धर्मों की सीखों को भी इसमें शामिल किया गया है।” गीता एवं अन्य धर्मों की किताबों की सीखों के बारे में छठी कक्षा और इससे उपर की कक्षा के छात्रों को पढ़ाया जाएगा।
 
शिक्षा व्यवस्था का भगवाकरण: विपक्ष...
इससे पहले, हरियाणा की भाजपा सरकार ने नैतिक शिक्षा के तहत राज्य के स्कूली पाठ्यक्रम में भगवद गीता की शुरूआत का प्रस्ताव किया था, लेकिन विपक्षी पार्टियों सहित अन्य तबकों ने इसकी आलोचना करते हुए ‘‘शिक्षा व्यवस्था के भगवाकरण’’ का आरोप लगाया था।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com