NDTV Khabar

Diwali 2017: इस दीवाली यहां जलाएं दीए, मिलेगा शुभ फल

भारत के सबसे बड़े त्योहारों में से दीपावली एक है. कार्तिक मास की अमावस्या को दीवाली का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. इस साल दीवाली 19 अक्टूबर 2017 को मनायी जाएगी. दीवाली के त्योहार पर रोशनी का अपना एक अलग ही महत्व रहता है.

20 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Diwali 2017: इस दीवाली यहां जलाएं दीए, मिलेगा शुभ फल

Diwali 2017: इस दीवाली यहां जलाएं दीए

खास बातें

  1. मां लक्ष्मी की तस्वीर के आगे घी का एक बड़ा दीया जलाएं
  2. घर के कमरों की चौखट पर भी दीया जलाना चाहिए.
  3. पीपल के पेड़ के नीचे दीया जलाने चाहिए.
भारत के सबसे बड़े त्योहारों में से दीवाली एक है. कार्तिक मास की अमावस्या को दीवाली का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. इस साल दीपावली19 अक्टूबर 2017 को मनायी जाएगी. दीवाली के त्योहार पर रोशनी का अपना एक अलग ही महत्व रहता है. रोशनी के लिए पारंपरिक तरीकों में दीयों को सबसे ज्यादा तवज्जो दी जाती है. दीवाली के त्योहार पर घर को दीयों से जगमग कर दिया जाता है.
 
diwali
दीपावली 2017:दीयों की रोशनी से रोशन होगा  जहां

इस दीपावली पर दीए जलाने की अपनी एक अलग ही मान्यता है. माना जाता है कि दीवाली पर दीए जलाने से भगवान गणेश और मां लक्ष्मी को प्रसन्न किया जा सकता है. इसके अलावा भी दीयों को शुभ संकेत के तौर पर भी देखा जाता है. आइए जानते हैं कि दीवाली पर कहां-कहां दीए जलाने चाहिए...
  सबसे पहले दीपावली पर मां लक्ष्मी की तस्वीर के आगे घी का एक बड़ा दीया जलाना काफी शुभ फलदायी रहता है. इसके अलावा पूरे घर में तेल के दीए जलाने चाहिए. मुख्य तौर पर घर के मुख्य दरवाजे पर जरूर ही दीया जलाना चाहिए. घर के मंदिर में भी दीया जलाया जाना चाहिए.
diyas 620
दीपावली 2017:दीयों से रोशन करने अपना घर

सके अलावा घरों में मौजूद खिड़की और छत पर भी दीए जलाने चाहिए.घर की रसोई में भी दीया जलाना चाहिए. ऐसा करने से घर में हर समय अन्न बना रहता है, अन्न की कमी नहीं होती है. घर के कमरों की चौखट पर भी दीया जलाना चाहिए.
  घर के अलावा घर के बाहर भी कई जगहों पर दीए जलाना शुभ माना जाता है. घर के बार अगर कोई चौराहा हो तो वहां भी दीया जलाना चाहिए. घर के नजदीक अगर कोई मंदिर मौजूद है तो वहां भी दीया जलाना चाहिए. दीवाली की रात में पीपल के पेड़ के नीचे दीया जलाने की भी अपनी मान्यता है. माना जाता है कि इससे मां लक्ष्मी को प्रसन्न किया जा सकता है.
 
आस्था की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement