NDTV Khabar

सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश पर परम्परा को नहीं तोड़ेंगे : त्रावणकोर देवाश्वम बोर्ड

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश पर परम्परा को नहीं तोड़ेंगे : त्रावणकोर देवाश्वम बोर्ड
तिरूवनंतपुरम:
टिप्पणियां

सबरीमाला में भगवान अयप्पा के मंदिर में महिला कार्यकर्ता तृप्ति देसाई के प्रवेश की योजना के परिप्रेक्ष्य में त्रावणकोर देवाश्वम बोर्ड ने आज कहा कि वह मंदिर में दस वर्ष से 50 वर्ष उम्र वर्ग की महिलाओं के प्रवेश को लेकर परम्परा और रिवाज को नहीं तोड़ेगा.
 
मंदिर का प्रबंधन देखने वाले त्रावणकोर देवाश्वम बोर्ड के अध्यक्ष प्रायर गोपालकृष्णन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘किसी को भी मंदिर की परम्परा और रिवाज को तोड़ने की अनुमति नहीं होगी.’’ वह महिला कार्यकर्ता तृप्ति देसाई की योजना के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे. देसाई ने मंदिर में सौ महिलाओं के समूह के साथ प्रवेश करने की योजना बनाई है.
 
मंदिर में दस वर्ष से 50 वर्ष तक की महिलाओं का प्रवेश वर्जित है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement