NDTV Khabar

योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, 'बौद्ध सर्किट से जुड़ेगी बुद्ध की तपोस्थली कौशाम्‍बी'

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बौद्ध तपोस्थली कौशाम्‍बी को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जाएगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, 'बौद्ध सर्किट से जुड़ेगी बुद्ध की तपोस्थली कौशाम्‍बी'

कौशम्बी बुद्ध काल का प्रसिद्ध नगर था

खास बातें

  1. कौशाम्‍बी को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जाएगा
  2. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस बात का ऐलान क‍िया है
  3. कौशाम्‍बी को बुद्ध की नगरी माना जाता है
कौशाम्‍बी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि बौद्ध तपोस्थली को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जाएगा और इसके उत्थान और विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी. योगी बुधवार को भगवान गौतमबुद्ध की तपोस्थली कौशाम्बी पहुंचे और यहां का निरीक्षण किया. फिर घोसिताराम विहार पहुंचे योगी ने स्कूल चलो अभियान व दस्तक टीकाकरण का शुभारम्भ किया. इस अवसर पर उन्होंने नौ बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार भी किया.

कौन थे लाफिंग बुद्धा? क्या है इनकी हंसी का राज

इस दौरान उन्होंने कहा कि 'स्कूल चलो अभियान' के तहत कोई भी बच्चा स्कूल में नामांकन से छूटना नहीं चाहिए. सभी लोग सभी बच्चों को स्कूल भेजें. उन्होंने कहा कि शास्त्रों में कहा गया है की सबसे बड़ा दान विद्यादान है. सरकार की ओर से अंग्रेजी माध्यम के स्कूल चलाया जाना एक मिसाल बनेगा.

जानिए बुद्ध पूर्णिमा का महत्‍व और मान्‍यताएं

योगी ने लोगों ने कहा कि टीकाकरण कराकर कुपोषण के खात्मे में सरकार के संकल्प को पूरा करने में सहयोग दें.

टिप्पणियां
गौरतलब है कि कौशम्बी बुद्ध काल का प्रसिद्ध नगर था और वत्स देश की राजधानी भी था. इलाहाबाद के दक्षिण-पश्चिम से 63 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कौशाम्बी को पहले कौशाम के नाम से जाना जाता था. यह बौद्ध और जैन धर्म के अनुयायियों का पुराना केंद्र है. पहले यह जगह वत्स महाजनपद के राजा उदयन की राजधानी थी. माना जाता है कि बुद्ध छठें और नौवें वर्ष यहां घूमने के लिए आए थे.

Video: 'भगवान बुद्ध के ज्ञान में दुनिया की समस्या का हल है'Input: IANS


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement