NDTV Khabar

अर्धकुंभ से पहले लखनऊ में हो रहा है 'युवा कुंभ', जानिए मेहमानों से लेकर तैयारियों तक सबकुछ

युवा कुंभ को लेकर राजधानी के 150 होटलों में 2500 कमरे बुक किए गए हैं. सुरक्षा के मद्देनजर, 15 मजिस्ट्रेट, 200 से ज्यादा पुलिसकर्मी और 15 पुलिस अधिकारी तैनात रहेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अर्धकुंभ से पहले लखनऊ में हो रहा है 'युवा कुंभ', जानिए मेहमानों से लेकर तैयारियों तक सबकुछ

लखनऊ में 22 दिसंबर से होगा युवा कुंभ का आगाज

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के प्रयाग में होने वाले अर्धकुंभ से पहले प्रदेश सरकार ने पांच वैचारिक कुंभ आयोजित करने की योजना बनाई थी. जिनमें में तीन कुंभ हो चुके हैं. चौथा कुंभ युवा कुंभ के नाम से होना है जो 22 और 23 दिसंबर को राजधानी लखनऊ में आयोजित किया जाएगा. 22 दिसंबर को कार्यक्रम इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित होगा. इसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पदाधिकारियों समेत अनेक प्रबुद्ध लोग भाग लेंगे, जबकि 23 दिसंबर को अशियाना स्थित कांशीराम उपवन स्थल पर होगा, इसमें देश भर की तमात हस्तियां शिरकत करेंगी,

इस बारे में जानकारी देते हुए एबीवीपी के अखिल भारतीय विश्वविद्यालय प्रमुख श्रीहरि बोरिकर ने बताया कि इस कार्यक्रम में फिल्म जगत से लेकर क्रिकेट, साहित्य, कला और रंगमंच, इतिहासकार से लेकर संघ विचारक समेत तमाम बड़ी हस्तियां हिस्सा लेंगी, एक दिन की परिचर्चा शाम 5:30 बजे तक चलेगी. इस परिचर्चा में अलग-अलग मुद्दों पर विचार व्यक्त किए जाएंगे.

कौन हैं तुलसी? गणेश पूजा में क्यों नहीं चढ़ाई जाती तुलसी? क्या है रविवार को तुलसी ना तोड़ने का कारण


बोरिकर की मानें तो 22 दिसंबर को पांच आयामों में बातचीत होगी. जिसमें शिक्षा, उद्यमिता, कला, सहित्य से लेकर विकास जैसे मुद्दों पर चर्चा होगी. इस मंथन से निकलने वाले विचारों को समाहित किया जाएगा. उसका विजन डॉक्यूमेंट भी तैयार किया जाएगा. बाद में उसे विशेषज्ञों को सौंपा जाएगा. इन्हीं क्षेत्रों में काम करने वाले मंत्री और सरकार के नुमाइंदों को भी यह दिया जाएगा.

उन्होंने बताया कि 22 व 23 दिसंबर को होने वाले इस आयोजन में केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौर, स्मृति ईरानी, योग गुरु बाबा रामदेव, क्रिकेट गौतम गंभीर समेत तमाम हस्तियां युवाओं के समक्ष अपने विचार रखेंगी. इस आयोजन का जिम्मा लखनऊ विश्वविद्यालय को दिया गया है. 

उन्होंने कहा, "उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता राज्यपाल राम नाईक करेंगे. वहीं, मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व मुख्य वक्ता के तौर पर आरएसएस के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल मौजूद रहेंगे. इस कार्यक्रम में छह हजार युवा हिस्सा लेंगे. इन युवाओं ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा लिया है."

कैसे भगवान गणेश की सवारी बना एक छोटा-सा चूहा? पढ़ें पूरी कहानी

देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह, गौतम गंभीर, पीयूष चावला, मधुर भंडारकर, मनोज तिवारी, राजू श्रीवास्तव, रंजन सोढ़ी, आरपी सिंह, विवेक ओबरॉय, विजेंद्र सिंह, सुशील कुमार, शिफूजी भारद्वाज, हिमा दास, सुनील आंबेकर, सतीश रेड्डी, चिन्मय पंड्या, दत्तात्रेय होसबोले, बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण, मुकुंद, मोनिका अरोड़ा, रवि किशन जैसे नामचीन लोग कार्यक्रम में शामिल होंगे. कुंभ में शिरकत करने वाले लोग 21 दिसंबर को ही राजधानी में आना शुरू हो जाएंगे.

कार्यक्रम को लेकर राजधानी के 150 होटलों में 2500 कमरे बुक किए गए हैं. सुरक्षा के मद्देनजर, 15 मजिस्ट्रेट, 200 से ज्यादा पुलिसकर्मी और 15 पुलिस अधिकारी तैनात रहेंगे. परिसर में जांच-पड़ताल के बाद ही एंट्री दी जाएगी. लेसा को निर्बाध बिजली की सप्लाई, नगर निगम को साफ-सफाई, एलडीए को कार्यक्रम स्थल से जुड़े शेष कार्यों को समय रहते पूरा करने के निर्देश डीएम कौशलराज शर्मा ने दिए हैं. 

इन मंत्रों के साथ करें तुलसी की पूजा...

गौरतलब है कि इससे पहले पर्यावरण कुंभ काशी मातृ शक्ति, कुंभ वृंदावन, अयोध्या में सामाजिक समरसता कुंभ का आयोजन हो चुका है.

इनपुट - आईएएनएस

टिप्पणियां

वीडियो - नासिक का कुंभ : किसने घोंटा गोदावरी का गला



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement