NDTV Khabar
होम | फैक्‍ट फाइल

फैक्‍ट फाइल

  • CJI के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव खारिज, क्या है कांग्रेस के पास विकल्प, 10 बड़ी बातें
    चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष द्वारा पेश किये गये महाभियोग प्रस्ताव को राज्यसभा के सभापति और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने खारिज कर दिया है. अब इसके बाद कांग्रेस के बाद सुप्रीम कोर्ट जाने का विकल्प बचता है और कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों से बातचीत के बाद सुप्रीम कोर्ट का रूख कर सकती है.
  • CJI दीपक मिश्रा के खिलाफ अगर नहीं स्वीकार होता है महाभियोग प्रस्ताव, कांग्रेस जा सकती है सुप्रीम कोर्ट, 10 बड़ी बातें
    प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के ख़िलाफ़ कांग्रेस समेत 7 पार्टियों के महाभियोग प्रस्ताव पर राज्यसभा सभापति वेंकैया नायडू ने क़ानूनी सलाह-मशविरा शुरू कर दिया है. कल उन्होंने संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप समेत कई जानकारों से राय ली. नायडू ने अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज बी सुदर्शन रेड्डी से भी महाभियोग पर राय ली. वेंकैया नायडू दिल्ली से बाहर थे लेकिन महाभियोग प्रस्ताव पर मशविरे के लिए उन्होंने अपना हैदराबाद बीच में ही रद्द कर और दिल्ली वापस लौट आए हैं.
  • दलित वोटों पर नजर : 'संविधान बचाओ' अभियान की आज शुरुआत करेंगे राहुल गांधी, 10 बड़ी बातें
    2019 के लोकसभा चुनाव और इसी साल कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सरकार के खिलाफ माहौल तैयार करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. कठुआ और उन्नाव कांड के बाद लोगों की आई प्रतिक्रिया और हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के जजों के बीच मतभेद को भी कांग्रेस मुद्दा बनाना चाहती है. इसी कड़ी में उसने प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव भी सौंपा है. हालांकि इस कांग्रेस के अंदर ही मतभेद है और कई विपक्षी दल साथ नहीं आए हैं. वहीं आज सुबह साढ़े दस बजे दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 'सेव द कांस्टीट्यूशन' (संविधान बचाओ) नाम से एक अभियान की शुरुआत करने जा रहे हैं.
  • CJI पर महाभियोग का प्रस्ताव : कपिल सिब्बल का बयान, जो आरोप हैं उनको नजरंदाज नहीं किया जा सकता, 10 बड़ी बातें
    कांग्रेस सहित विपक्षी दलों की ओर से मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव राज्यसभा के सभापति वेकैंया नायडू को सौंप दिया है. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा है कि मुख्य न्यायाधीश ने अपने पद का दुरुपयोग किया है और अब हमारा कर्तव्य बनता है कि हम इस मामले को आगे ले जाएं. सिब्बल ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने खुद माना है कि न्यायपालिका की स्वयत्ता खतरे में है. सिब्बल ने कहा कि ऐसे हालात में क्या देश को कुछ नहीं करना चाहिए.
  • कठुआ मामला: क्या सुलझेगी गुत्थी? फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट में मिले अहम सबूत, 8 बातें
    जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और हत्या मामले में फॉरेंसिक रिपोर्ट ने इस घटना की कई परतों को खोल कर रख दिया है. कठुआ गैंगरेप और हत्या मामले में फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट में जांच टीम के हाथ कुछ ऐसे सबूत हाथ लगे हैं, जिससे आरोपियों की मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं. फॉरेंसिक रिपोर्ट ने एक बार इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों कटघरे में खड़ा कर दिया है. 
  • मैं चाहता हूं कि मोदी सरकार की आलोचना हो: लंदन में पीएम मोदी के संबोधन के 10 अहम Quotes
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंग्लैंड के सेंट्रल हॉल वेस्टमिंस्टर में भारतीय मूल के नागरिकों को संबोधित किया. ब्रिटेन के अपने इस दौरे में पीएम मोदी पहली बार भारतीय मूल के लोगों को संबोधित कर रहे थे. इस पूरे इवेंट का नाम 'भारत की बात, सबके साथ' था. इस दौरान पीएम मोदी ने भारत में हो रही रेप की घटनाओं से लेकर सर्जिकल स्ट्राइक आदि पर अपनी बातें रखीं. उन्होंने एक बाद एक सवालों का जवाब दिया और कहा कि यह सरकार अन्य सरकारों से अलग है. चलिए जानते हैं उनके भाषण की 10 बड़ी बातों को..
  • अटल पेंशन योजना पर 15 खास बातें : रिटायरमेंट के बाद रेगुलर इनकम की है चिंता तो यह खबर जरूर पढ़ें
    सरकारी नौकरी में पहले लोगों को पेंशन की टेंशन नहीं होती थी. लेकिन अब प्राइवेट हो या सरकारी नौकरी (सेना को छोड़कर) सभी को रिटायरमेंट के बाद पेंशन की टेंशन होने लगती है. कई बार तो ऐसा भी होने लगा है कि लोग अपनी जरूरत की चीजें भी पेंशन के चक्कर में नहीं लेते और पैसा इकट्ठा करने में परेशान हो जाते हैं. इसके चलते यह भी हो जाता है कि टैक्स की टेंशन दूसरी तरफ परेशान करने लगती है. ऐसे में अगर व्यक्ति फाइनेंशियल प्लानिंग के तहत पेंशन स्कीम में पैसा लगाता है तो उसे अपने बुढ़ापे की टेंशन नहीं लेनी होगी. देश में सरकार की ओर से और निजी कंपनियों की ओर से पेंशन योजनाएं लाई गई हैं.
  • उन्नाव रेप केस : सीबीआई ने खंगाली 6 निलंबित पुलिसकर्मियों की कॉल डिटेल, ये हैं अब तक की 5 बड़ी बातें
    उन्नाव रेप केस मामले में सीबीआई की जांच तेजी से शुरू कर दी है. सीएम आवास के सामने पीड़ित परिवार की ओर से खुदकुशी की कोशिश के बाद से यह मामला सुर्खियां बन गया था. इसी बीच रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता के पिता की हिरासत में मौत हो जाती है. इस नई घटना के सामने आने के बाद योगी सरकार पर दबाव बढ़ गया और विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई को गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं 6 पुलिस कर्मियों को भी सस्पेंड कर दिया गया. इन घटनाक्रमों के बीच विधायक जी खुद को निर्दोष बताते रहे और पीड़ित परिवार को नीच स्तर का बता डाला. लेकिन अब तक यह मामला हाईकोर्ट पहुंच गया और मीडिया में भी सुर्खियां बन गया. इस बीच हाईकोर्ट ने राज्य में कानून व्यवस्था पर सवाल उठा दिए और कुलदीप सिंह को सेंगर को गिरफ्तार करने के आदेश दिया. हालांकि सीबीआई उनको पहले ही हिरासत में ले चुकी थी.
  • कुलदीप सिंह सेंगर : 2007 में थी 36 लाख की संपत्ति, अब हैं करोड़ों के मालिक, 21 बड़ी बातें
    उन्नाव रेप के मामले में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को हिरासत ले लिया गया है. सीबीआई ने सुबह 5 बजे विधायक को हिरासत में लिया है. हालांकि उनकी गिरफ्तारी होगी या नहीं यह सीबीआई को तय करना है. हालांकि यूपी पुलिस ने हाईकोर्ट में बताया है कि उनको गिरफ्तार करने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं है. अब यह देखने वाली बात होगी केंद्रीय जांच एजेंसी कितने सबूत जुटा पाती है.
  • उपवास रखते हुए पीएम मोदी चेन्नई में करेंगे रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन, 8 बातें
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को संसद के काम-काज में बाधा डालने के विरोध में उपवास रखने के बावजूद चेन्नई शहर के पास रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे. रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि हाल ही में समाप्त हुए बजट सत्र के दौरान 'विपक्ष द्वारा संसद की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने' के विरोध में आहूत उपवास में वह भी हिस्सा लेंगी. उन्होंने कहा, "मैं भी उपवास रखूंगी. प्रधानमंत्री मोदी भी उपवास रखेंगे, मगर उपवास के कारण वह यहां आने से नहीं रुकेंगे." उन्होंने यहां रक्षा प्रदर्शनी 2018 की शुरुआत के बाद यह बात कही. इस प्रदर्शनी में भारत की हथियार विनिर्माण क्षमता को दर्शाया गया है.
  • पीएम मोदी का बिहार दौरा : स्वागत में गुलाब, मंच पर नीतीश की नसीहत, पासवान ने कहा- आरक्षण जन्म सिद्ध अधिकार, 5 बड़ी बातें
    बिहार में हुई सांप्रदायिक हिंसा से बीजेपी और जेडीयू के बीच आई तल्खी और राम विलास पासवान की मुस्लिम वोटबैंक की चिंता के बीच आज पीएम मोदी जब मोतीहारी में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे तो मंच पर नजारा देखने लायक था. पीएम मोदी ने आज यहां पर नया नारा दिया 'सत्याग्राह से स्वच्छाग्रह'. इसके साथ ही उन्होंने जेडीयू के संबंधों में आई तल्खी दूर करने की भी कोशिश की. उन्होंने नीतीश सरकार के कामकाज की तारीफ और कहा कि नीतीश जी और सुशील जी के नेतृत्व में बिहार ने जो कार्य बीते दिनों करके दिखाया है, उसने सभी का हौसला बढ़ा दिया है.
  • पीएम मोदी ने बताया, आखिर क्‍यों लटका था मधेपुरा में इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव फैक्ट्री प्रोजेक्‍ट, 10 बातें
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार के मधेपुरा में इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव फैक्ट्री के फेज वन का भी लोकार्पण किया. इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि ये फैक्ट्री दो कारणों से अहम है. एक तो ये मेक इन इंडिया का उत्तम उदाहरण है, और दूसरा, ये इस क्षेत्र में रोजगार का भी बड़ा माध्यम बन रही है. उन्‍होंने कहा कि चंपारण सत्याग्रह के सौ वर्ष के अवसर पर मुझे एक नई ट्रेन का शुभारंभ करने का भी अवसर मिला है. ये ट्रेन कटिहार से पुरानी दिल्ली तक चला करेगी. इसका नाम विशेष रूप से चंपारण हमसफर एक्सप्रेस रखा है. आधुनिक सुविधाओं से लैस ये ट्रेन, दिल्ली आने-जाने में आपके लिए बहुत मददगार साबित होगी.
  • जाति आधारित आरक्षण के खिलाफ आज भारत बंद, कई जगह इंटरनेट बंद तो कहीं धारा 144 लगाई, 10 बातें
    कुछ समूहों द्वारा नौकरियों और शिक्षा में जाति आधारित आरक्षण के खिलाफ आज किये गए भारत बंद के आह्वान के मद्देनजर सुरक्षा चाक चौबंद करने और हिंसा रोकने के लिये केंद्र ने सभी राज्यों के लिये परामर्श जारी किया है. गृह मंत्रालय ने कहा कि अपने इलाके में होने वाली किसी भी हिंसा के लिये जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे. करीब एक हफ्ते पहले हुये ऐसे ही एक प्रदर्शन के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में हुई व्यापक हिंसा के एक हफ्ते बाद यह संदेश आया है. इस हिंसा में एक दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी.
  • PM मोदी देश के पहले 12,000 हॉर्सपावर रेल इंजन को दिखाएंगे हरी झंडी, लालू ने रखी थी कारखाने की आधारशिला, 10 बातें
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को यहां ‘‘ स्वच्छ भारत मिशन ’’ के स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे और कई रेल योजनाओं को हरी झंडी दिखाएंगे. प्रधानमंत्री का दौरा पिछले साल अप्रैल में बिहार सरकार द्वारा शुरू किये गये चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष समारेाह के समापन के मौके पर हो रहा है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा कटिहार-नई दिल्ली सप्ताह में दो बार चलने वाली हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन एक नई द्वि-साप्ताहिक ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे, मोतिहारी - मुजफ्फरपुर रेल लाइन के विद्युतीकरण कार्य एवं मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रेलवे ट्रैक के दोहरीकरण कार्य की शुरूआत के अलावा मधेपुरा लोकोमोटिव फैक्ट्री द्वारा भारत और फ्रांस के संयुक्त सहयोग से विकसित 12,000 अश्वशक्ति वाला इलेक्ट्रोलिक लोकोमोटिव राष्ट्र को समर्पित किए जाने की संभावना है. आपको बता दें कि लगभग 250 एकड़ क्षेत्र में फैली कारखाने की आधारशिला 2007 में रेल मंत्री लालू प्रसाद ने रखी थी.
  • 5 दलित सांसदों के वो बयान जो लोकसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी और शाह के लिए बन सकते हैं बड़ी चुनौती
    ऐसा लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी के अंदर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. योगी सरकार के खिलाफ बीजेपी के ही मंत्री और अब सांसदों ने मोर्चा खोल रखा है. सबसे पहले योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने राज्य सरकार के कामकाज पर सवाल उठाए थे और मीडिया में जमकर बवालबाजी हुई की थी. लेकिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के बाद वह शांत हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि वह पूरी तरह संतुष्ट हो गए हैं. बीजेपी अभी इनसे निपटी ही थी कि उत्तर प्रदेश के दलित सांसदों ने भी पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर नाराजगी जता दी. इनमें से बहराइच की सांसद सावित्री बाई फुले ने तो मंच पर ही सबको चुनौती दे डाली. 2019 के पहले बीजेपी के इन सांसदों के बयान पार्टी के लिए बड़ी मुश्किल बनते जा रहे हैं.
  • Blackbuck Poaching Case: सलमान खान को बेल या फिर जेल, आज भी होगी जमानत पर सुनवाई, 10 बातें
    काला हिरण शिकार मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद दो दिनों से जोधपुर सेंट्रल जेल में रह रहे बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान की जमानत याचिका पर शनिवार को भी सुनवाई होगी. सलमान खान को शुक्रवार को जमानत नहीं मिल सकी थी, क्योंकि अभी बहस की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई थी. उम्मीद की जा रही है कि आज जमानत याचिका पर फैसला आ सकता है. हालांकि, राजस्थान में बड़ी संख्या में जजों के तबादले की वजह से भी इस फैसले में देरी की संभावनाएं बढ़ सकती हैं क्योंकि जिन जजों का तबादला हुआ है उसमें सेशन कोर्ट के जज रवींद्र जोशी भी शामिल हैं, जो सलमान खान की जमानत याचिका पर सुनवाई कर रहे हैं. दरअसल, ज़मानत अर्जी पर सुनवाई अभी पूरी नहीं हुई है, और सुनवाई शनिवार को भी जारी रहेगी. जब तक ज़मानत पर कोर्ट का फैसला नहीं आ जाता, सलमान खान को जेल में ही रहना होगा.
  • सलमान खान की जमानत पर फैसला अब शनिवार को, इस केस से जुड़ी अब तक की 20 बड़ी बातें
    बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को जोधपुर की अदालत ने दो काले हिरणों का शिकार करने के 20 साल पुराने मामले में पांच साल की कैद की सजा सुना दी है. उनकी जमानत अर्जी पर सुनवाई पूरी हो चुकी है अब फैसला शनिवार को आएगा. जोधपुर जेल में सलमान खान कैदी नंबर-106 हैं और उन्हें बैरक नंबर 2 में रखा गया है. जेल प्रशासन का कहना है, उनकी सुरक्षा का पूरा खयाल रखा जा रहा है. जेल प्रशासन ने कहा कि फिल्म अभिनेता ने अलग से कोई मांग नहीं की है. पीटीआई की खबर के अनुसार जेल में उन्हें दाल रोटी दी गई, जिसे उन्होंने नहीं खाया. हालांकि, अदालत ने इसी मामले में सलमान के सैफ अली खान, सोनाली बेन्द्रे, तब्बू और नीलम और एक स्थानीय निवासी दुष्यंत सिंह को ‘‘संदेह का लाभ’’ देते हुए बरी कर दिया.
  • काला हिरण शिकार मामला: इस वजह से मिली 5 साल की सजा
    काला हिरण शिकार मामले में आज सलमान खान पर कोर्ट का फैसला सुनाया. उन्हें 5 साल की जेल की सजा सुनाई गई. जोधपुर की अदालत काला हिरण के शिकार के 19 साल पुराने मामले में सलमान खान को दोषी करार दिया जबकि अन्य लोगों बरी कर दिया. मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने 1998 में हुई इस घटना के संबंध में 28 मार्च को मुकदमे की सुनवाई पूरी करते हुये फैसला बाद में सुनाने की घोषणा की थी. गौरतलब है कि फैसला सुनाये जाने के समय सभी आरोपी कलाकार सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेन्द्रे और नीलम अदालत में मौजूद थे.
  • सलमान खान के खिलाफ आखिर क्यों पुख्ता और मजबूत है ये केस, 5 कारण
    काला हिरण शिकार मामले में आज सलमान खान पर कोर्ट का फैसला आने वाला है. जोधपुर की अदालत काला हिरण के शिकार के 19 साल पुराने मामले में सलमान खान और अन्य लोगों के खिलाफ आज अपना फैसला सुनायेगी. मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने 1998 में हुई इस घटना के संबंध में 28 मार्च को मुकदमे की सुनवाई पूरी करते हुये फैसला बाद में सुनाने की घोषणा की थी. गौरतलब है कि फैसला सुनाये जाने के समय सभी आरोपी कलाकार सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेन्द्रे और नीलम अदालत में मौजूद रहेंगे. सभी के सभी जोधपुर पहुंच गए हैं.
  • काला हिरण शिकार मामला: सलमान खान के लिए अहम दिन, जोधपुर कोर्ट में फैसला आज, 10 बड़ी बातें
    बॉलीवुड के भाईजान सलमान खान के लिए आज काफी निर्णायक दिन है. आज फैसला होगा कि सलमान खान को राहत मिलेगी या फिर जेल. जोधपुर की एक अदालत काला हिरण के शिकार के दो दशक पुराने मामले में अभिनेता सलमान खान और अन्य लोगों के खिलाफ आज अपना फैसला सुनायेगी. मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने 1998 में हुई इस घटना के संबंध में 28 मार्च को मुकदमे की सुनवाई पूरी करते हुये फैसला बाद में सुनाने की घोषणा की थी. गौरतलब है कि फैसला सुनाये जाने के समय सभी आरोपी कलाकार सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेन्द्रे और नीलम अदालत में मौजूद रहेंगे.
12345»

Advertisement