NDTV Khabar

वडनगर में बोले पीएम मोदी, देश के लिए अब पहले से भी ज्यादा मेहनत करूंगा- 10 खास बातें

पीएम मोदी गुजरात में अपने दो दिवसीय दौरे पर हैं. अपने दौरे के दूसरे दिन पीएम वडनगर पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वडनगर में बोले पीएम मोदी, देश के लिए अब पहले से भी ज्यादा मेहनत करूंगा- 10 खास बातें

पीएम मोदी ने कहा, देश के लिए अब पहले से भी ज्यादा मेहनत करूंगा.

वडनगर: पीएम नरेंद्र मोदी गुजरात के दौरे के दूसरे दिन अपने गृहनगर वडनगर पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया. इस मौके पर उन्होंने लोगों को संबोधित किया. अपने संबोधन में उन्होंने स्वास्थ्य, स्वच्छता से लेकर टूरिज्म तक तमाम मुद्दों को उठाया. पीएम मोदी ने कहा कि अपने गांव और अपनों के बीच में जो सम्मान मिलता है उसका आनंद कुछ और होता है. उन्होंने कहा कि आज मैं जो कुछ हूं, इसी मिट्टी के संस्कारों की वजह से हूं. वडनगर में पीएम मोदी ने एक रोड शो किया. उन्होंने हाटकेश्वर मंदिर में पूजा-अर्चना भी की.
पीएम बनने के बाद पहली बार अपने गृहनगर पहुंचे नरेंद्र मोदी
  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वडनगर में कहा, मैंने कई पुरानी स्मृतियों को आज दोहराया और नई ऊर्जा लेकर यहां से जा रहा हूं.
  2. वडनगर के लोगों ने मुझ पर जो स्नेह लुटाया है, उससे मुझे अधिक उत्साह के साथ देश की सेवा करने की नई ऊर्जा मिली है.
  3. पीएम ने कहा कि देश के लिए अब पहले से भी ज्यादा मेहनत करूंगा. आपने मुझे जो सिखाया है, जो समझाया है, वो दिन-ब-दिन सबका सिर ऊंचा करता रहे, उसमें कोई कमी नहीं रखूंगा.
  4. मोदी ने लोगों से सरकार के 'इंद्रधनुष' कार्यक्रम के बच्चों के तहत टीकाकरण के लिए पूरे जोर-शोर से आगे आने का आह्वान किया. इंद्रधनुष कार्यक्रम को अपना बनाएं.
  5. पीएम मोदी ने कहा कि रक्तदान, नेत्रदान, श्रमदान से भी बढ़कर बच्चों के टीकाकरण का अभियान है.
  6. उन्होंने कहा कि हमने दिल के मरीजों के लिए स्टंट की कीमतों में कटौती की. दवाओं की कीमतें कम करने के लिए हमने जेनेरिक दवाओं को बढ़ावा दिया.
  7. पुरानी सरकारों के दौर में ऐसी व्यवस्था बन गई थी कि मेडिकल कॉलेजों में बहुत कम छात्र जा पाते थे.
  8. प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में डॉक्टरों की कमी की भरपाई करने के लिए नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की जा रही है और सीटों की संख्या बढ़ाई जा रही है.
  9. पीएम ने कहा कि उनकी अपील पर देश के डॉक्टरों ने पिछले एक साल में करीब 80-85 लाख गरीब प्रसूताओं को मुफ्त में दवाएं दी.
  10. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य की गारंटी सफाई पर आधारित होती है. अगर स्वच्छता है तो बीमारी आने की हिम्मत नहीं करती है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement