NDTV Khabar

ममता बनर्जी के गढ़ में बोले अमित शाह- TMC के शासन को बंगाल से उखाड़ फेंकना है

भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा कि बंगाल तृणमूल कांग्रेस की ‘‘निजी सम्पत्ति’’ नहीं है, पार्टी को ऐसी मांगें करने का कोई अधिकार नहीं है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ममता बनर्जी के गढ़ में बोले अमित शाह- TMC के शासन को बंगाल से उखाड़ फेंकना है

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ( फाइल फोटो )

कोलकाता: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कोलकाता दौरे से एक दिन पहले ही शहर के मध्य मायो रोड स्थित उनके रैली स्थल के आसपास ऐसे पोस्टर लगे दिखे जिन पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ लिखा है. प्रदेश भाजपा ने आरोप लगाया कि ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ और ‘‘बंगाल विरोधी भाजपा वापस जाओ’’ संदेश वाले पोस्टर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा लगाये गए हैं.  हालांकि इस आरोप से पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने इनकार किया. पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘‘इससे पता चलता है कि तृणमूल कांग्रेस कल होने वाली हमारी रैली से भयभीत है. राज्य के लोग भाजपा के सुशासन का इंतजार कर रहे हैं.’’ भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा कि बंगाल तृणमूल कांग्रेस की ‘‘निजी सम्पत्ति’’ नहीं है, पार्टी को ऐसी मांगें करने का कोई अधिकार नहीं है. 
भाषण की खास बातें
  1. आज की ये रैली इस बात की परिचायक है कि बंगाल में परिवर्तन होने जा रहा है. ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में हमारी आवाज को दबाने का काम रही हैं. बांग्ला चैनलों को बंद कर दिया गया है.
  2. मैं पूछना चाहता हूं कि हम कैसे बंगाल विरोधी कर सकते हैं हमारी तो पार्टी की स्थापना ही बंगाल के सपूत श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने की थी. 
  3. ममता बनर्जी घुसपैठियों को बंगाल और असम में रखना चाहती हैं. ममता जी साफ करिये कि आपके लिये देश की सुरक्षा जरूरी है या वोटबैंक को. मैं आज यहां आये लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या बांग्लादेशी घुसपैठी देश के लिये खतरा है नहीं हैं.
  4. ममता जी मैं बता देना चाहता हूं कि बीजेपी के लिये देश की सुरक्षा पहले है. वोटबैंक बाद में. ममता बनर्जी एक भ्रम फैला रही हैं कि सभी शरणार्थियों को बाहर कर दिया जायेगा. लेकिन हम साफ कर देना चाहता हूं कि शरणार्थियों को रखना भारत सरकार की जिम्मेदारी है.
  5. कांग्रेस के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने असम समझौते के तहत एनआरसी शुरू की थी लेकिन आज उनके बेटे राहुल गांधी कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं.
  6. मैं टीएमसी और कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि क्या बंगाल के लोगों के मानवाधिकार की चिंता है या नहीं. जिस प्रकार से ममता बनर्जी के शासन में घुसपैठ जारी है ये ठीक नहीं है. घुसपैठ रोकने का सबसे आसाना रास्ता एनआरसी है. 
  7. मैं बंगाल के भाइयों से पूछना चाहता हूं कि कि आप लोगों एनआरसी का समर्थन करते हो या नहीं. हम यहां ममता बनर्जी की सरकार को उखाड़ फेेकेंगे.
  8. जब से ममता बनर्जी की सरकार आई है, नारदा, सारदा, रोजवैली घोटाले सामने आए हैं. बीजेपी की सरकार बनने के बाद ही यहां से भ्रष्टाचार खत्म किया जा सकेगा. 
  9. टीएमसी के शासन में बम बनाने के कारखाने खुलते जा रहे हैं. अगर बंगाल को आगे बढ़ना है तो बीजेपी की सरकार यहां बननी चाहती है. पंचायत चुनाव में टीएमसी ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये हैं. बीजेपी कार्यकर्ता के 65 कार्यकर्ता को मार दिया. लेकिन की 7 हजार सीटों पर कमल फूल का विजयी रहा है. 
  10. कार्यकर्ताओं की हत्या करके कोई बच नहीं सकता है. ममता बनर्जी आप वामपंथियों का शासन याद कर लीजिये. मैं यहां आये लोगों से अपील करता हूं कि यहां से टीएमसी को उखाड़ फेंकना है.
  11. बंगाल को केंद्र की ओर से 3 लाख करोड़ रुपया भेजा गया है. आखिर वो कहां चला गया है. बंगाल में अब परिवर्तन होने जा रहा है.  बंगाल के घर-घर तक बीजेपी के कार्यकर्ता जाएंगे और टीएमसी के कारनामों को घर तक पहुंचायेंगे. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement