NDTV Khabar

हिमाचल प्रदेश में BSP को मिले नोटा से भी कम वोट, पढ़ें 10 खास बातें

हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा में 83 साल के सबसे बुजुर्ग विधायक वीरभद्र सिंह हैं. वहीं उनके बेटे विक्रमादित्‍य सिंह सबसे युवा विधायक होंगे.

98 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
हिमाचल प्रदेश में BSP को मिले नोटा से भी कम वोट, पढ़ें 10 खास बातें

हिमाचल चुनाव नतीजोंं की दस खास बातें (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के वोटरों ने 1990 के बाद से चल आ रहे ट्रेंड को बरकरार रखा है और इस बार कांग्रेस के हाथ से सत्‍ता छीनकर बीजेपी को सौंप दी है. बीजेपी ने 68 में से 44 सीटों पर जीतकर बहुमत हासिल कर लिया है लेकिन मुख्‍यमंत्री पद के उम्‍मीदवार प्रेम कुमार धूमल खुद चुनाव हार गए हैं.
हिमाचल चुनाव नतीजोंं की दस खास बातें
  1. हिमाचल प्रदेश में बसपा को नोटा से भी कम वोट मिले हैं. बीएसपी को कुल 17 हजार 335 वोटे मिले. वहीं नोटा को 32 हजार 656 लोगों ने नोटा का इस्‍तेमाल किया. 
  2. हिमाचल प्रदेश की 13वीं विधानसभा में 83 साल के सबसे बुजुर्ग विधायक वीरभद्र सिंह हैं. वहीं उनके बेटे विक्रमादित्‍य सिंह सबसे युवा विधायक होंगे. 
  3. हिमाचल में बीजेपी के उम्‍मीदवार विनोम कुमार नाचल विधानसभा सीट पर सबसे ज्‍यादा 15,896 वोटों से चुनाव जीते. 
  4. कांग्रेस के किन्‍नौर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के उम्‍मीदवार जगत सिंह नेगी 120 वोटों से चुनाव जीते. 
  5. बीजेपी के मुख्‍यमंत्री पद के उम्‍मीदवार प्रेम कुमार धूमल ही नहीं बल्कि उनके खेमे के कई नेता चुनाव हार गए हैं. बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष सतपाल सत्‍ती धूमल, देहरा सीट से रविंद्र रवि और जोगिंद्र नगर से खड़े हुए धूमल के समधी गुलाब सिंह ठाकुर चुनाव हार गए हैं. 
  6. हिमाचल की राजनीति के दिग्‍गज नेता अपने बेटों पर भी चुनाव जीताने में कामयाब रहे हैं. वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्‍य शिमला ग्रामीण से चुनाव जीते. विधानसभा अध्‍यक्ष बृजबिहारी लाल बुटेल के बेटे आशीष पालमपुर सीट से जीते. सुखराम के बेटे अनिल शर्मा भी चुनाव जीते. 
  7. निचले हिमाचल के सात जिलों की जनता ने बीजेपी को जीत दिलाने में बड़ी भूमिका निभाई. यहां की 48 में से 35 सीटों पर बीजेपी ने जीत हासिल की और मंडी में तो कांग्रेस का खाता ही नहीं खुल सका. 
  8. हिमाचल में आठ नवनियुक्‍त विधायकों की उम्र 40 से कम है. वहीं राज्‍यसभा सांसद विप्‍लव ठाकुर चुनाव हार गए हैं. 
  9. हिमाचल की जोगिंद्रनगर विधानसभा में सबसे ज्‍यादा वोटरों ने नोट बटन दबाया. यहां पर 1120 लोगों ने नोट का बटन दबाकर उम्‍मीदवारों को नाकार दिया. वहीं लाहौल-स्‍पीति में सबसे कम 70 वोटरों ने नोटा बटन का इस्‍तेमाल किया. 
  10. हिमाचल में इस बार 19 महिला उम्‍मीदवार चुनावी मैदान में थी जिसमें से सिर्फ चार महिलाओं को ही जीत हासिल हुई. पिछली विधानसभा में सिर्फ तीन महिलाएं थी.

VIDEO: हिमाचल में BJP के सीएम उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल हारे
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement