NDTV Khabar

उपभोक्ताओं को राहत: GST घटने के बाद FMCG कंपनियों ने प्रोडक्ट्स सस्ते किए - 8 खास बातें

आईटीसी के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी ने हालिया जीएसटी अधिसूचना के तहत लागू टैक्स दरों के हिसाब से अपने उत्पादों के दाम घटाए हैं.

109 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उपभोक्ताओं को राहत: GST घटने के बाद FMCG कंपनियों ने प्रोडक्ट्स सस्ते किए - 8 खास बातें

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: आईटीसी, डाबर, हिंदुस्तान यूनिलीवर और मैरिको जैसी एफएमसीजी कंपनियों ने माल एवं सेवा कर (जीएसटी) दरों में कटौती का लाभ ग्राहकों को देने के लिए अपने विभिन्न उत्पादों के दाम घटा दिए हैं. कंपनियों ने कहा है कि उन अन्य श्रेणियों में कीमतों में कटौती करेंगी, जिनमें टैक्स दर घटाई गई है. सरकार ने कंपनियों से जीएसटी दरों में कटौती का लाभ उपभोक्ताओं को देने को कहा था. जीएसटी परिषद की गुवाहाटी में 10 नवंबर को हुई बैठक में 178 वस्तुओं पर लगने वाले कर में कटौती की. इससे उच्च 28 प्रतिशत जीएसटी दर में केवल 57 वस्तुएं ही रह गईं.
रोजमर्रा की चीजें हुईं सस्ती
  1. नई दर 15 नवंबर से लागू की जानी थी. इसके अलावा कई वस्तुओं पर जीएसटी की दर 18 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत तथा 12 प्रतिशत से 5 प्रतिशत किया गया है.
  2. आईटीसी के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी ने हालिया जीएसटी अधिसूचना के तहत लागू कर दरों के हिसाब से अपने उत्पादों के दाम घटाए हैं.
  3. हिंदुस्तान यूनिलीवर के प्रवक्ता ने कहा कि हमने ब्रू कॉफी गोल्ड के 50 ग्राम के पैक का दाम 145 रुपये से घटाकर 111 रुपये किया है.
  4. मैरिको के मुख्य वित्त अधिकारी विवेक कार्वे ने कहा कि कंपनी ने डियोडोरेंट्स, हेयर जेल, हेयर क्रीम और बॉडी केयर उत्पादों के अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) में बदलाव किया है.
  5. रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली डाबर इंडिया ने जीएसटी दरों में हाल की कटौती का फायदा ग्राहकों को देते हुए शैंपू, त्वचा देखभाल और घरों में उपयोग होने वाले अन्य वस्तुओं के दाम में नौ प्रतिशत तक की कटौती की घोषणा की थी.
  6. कंपनी ने एक बयान में कहा, 'वह मौजूदा भंडार पर जीएसटी में कटौती का लाभ ग्राहकों को दे रही है. इसके तहत उत्पादों के मूल्य में नौ प्रतिशत का लाभ व्यापार सहयोगियों को दी जा रही है.'
  7. डाबर ने पिछले सप्ताहांत अपने सभी व्यापार सहयोग को कीमत समीक्षा के बारे में जानकारी दी थी और उन्हें इसका तत्काल लाभ ग्राहकों को देने का निर्देश दिया गया है.
  8. बयान के अनुसार डाबर ने नए उत्पादों के अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) में तत्काल प्रभाव से कटौती की है. कीमतों में 8 प्रतिशत से 10 प्रतिशत तक की कटौती की गई है. नए माल अगले महीने बाजार में आएंगे. (इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement