NDTV Khabar

IS ने ली फ्लोरिडा जिम्मेदारी ली, हमलावर के पिता ने कहा- उमर मतीन समलैंगिकों से करता था नफरत

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IS ने ली फ्लोरिडा जिम्मेदारी ली, हमलावर के पिता ने कहा- उमर मतीन समलैंगिकों से करता था नफरत

ओमर मतीन ...

फ्लोरिडा: अमेरिका के फ्लोरिडा के ऑरलैंडो के एक नाइट क्लब में एक बंदूकधारी हमलावर की फायरिंग में 50 लोगों की मौत हो गई है जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिनमें कई की हालत गंभीर बनी हुई है।
मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :
  1. आईएस ने रेडियो बुलेटिन में दावा किया कि ओरलैंडो में गोलीबारी करने वाला बंदूकधारी ‘खिलाफत का सिपाही’ था। आईएस ने ‘अल-बयान’ में कहा, ऊपर वाले ने अमेरिका में खिलाफत के एक सिपाही को नाइट क्लब तक पहुंचाया और इस हमले को अंजाम दिलवाया। उसने 100 से अधिक लोगों को मार दिया और घायल कर दिया।’
  2. हमलावर का नाम ओमर सिद्दीक़ी मतीन बताया जा रहा है। वह भी मारा गया है। वह एक अमेरिकी नागरिक बताया जा रहा है।
  3. अमेरिकी चैनल के मुताबिक़, मतीन ने गोलीबारी से पहले इमरजेंसी हेल्पलाइन को फ़ोन कर IS से जुड़े होने की बात कही थी। आईएस की न्यूज एजेंसी अमक ने भी मतीन के IS से जुड़े होने की पुष्टि की है।
  4. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे आतंकी हमला बताया है। व्हाइट हाउस से जारी एक बयान में ओबामा ने कहा कि गोलीबारी की यह घटना चरमपंथ और नफ़रत की कार्रवाई है।
  5. घटना के बाद फ़्लोरिडा में इमरजेंसी लागू कर दी गई है। पिछले कुछ सालों में अमरीकी इतिहास में सामूहिक गोलीबारी की ये सबसे बड़ी घटना है।
  6. ओरलैंडो के गे-नाइटक्लब 'पल्स ओरलैंडो' में गोलीबारी से लेकर पुलिस मुठभेड़ में हमलावर के मारे जाने तक का पूरा घटनाक्रम करीब तीन घंटे का रहा। रात करीब 2 बजे, क्लब बंद होने वाला था लेकिन उसी दौरान वहां संगीत के साथ-साथ गोलियों की आवाज गूंजी।
  7. पुलिस का कहना है कि भारी हथियार और एक बंदूक से लैस हमलावर ने गोलियां चलाईं। ओरलैंडो के पुलिस प्रमुख जॉन मिना ने कहा कि क्लब में 'एक्सट्रा ड्यूटी' कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने तुरंत जवाबी कार्रवाई की और जल्दी ही दो अन्य अधिकारी उनकी मदद को आ जुटे। दोनों पक्षों में मुठभेड़ शुरू हो गई।
  8. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, 'इसीबीच हमलावर क्लब के भीतर घुस गया तथा वहां और गोलियां चलीं। यह बंधक वाली स्थिति में बदल गया।' उन्होंने कहा, 'सुबह करीब पांच बजे, अंदर मौजूद बंधकों को छुड़ाने का फैसला लिया गया।' मिना ने कहा कि पुलिस ने विस्फोटक और बख्तरबंद गाड़ी 'बीयरकैट' की मदद से क्लब की दीवार गिरायी और अंदर घुसे। उन्होंने कहा कि इस अभियान में करीब 30 लोगों को बाहर निकाला गया।
  9. हमलावर के पिता का कहना है कि उन्‍हें यकीन है कि उनका बेटा समलैंगिकों के प्रति नफरत से प्रेरित था- अपने मुस्लिम धर्म से नहीं। मीर सिद्दीकी ने एनबीसी न्‍यूज से कहा कि इसका धर्म से कुछ लेना-देना नहीं। उन्‍होंने कहा कि उनके बेटे उमर मतीन ने हाल ही में एक समलैंगिक जोड़े को मियामी शहर में आलिंगन अवस्‍था में देखा था, लिहाजा उनके सुझाव में इस घटना की वजह क्रूरता हो सकती है। सिद्दीकी ने कहा कि उसकी पत्‍नी और बच्‍चों के सामने दो पुरुष एक-दूसरे को किस कर रहे थे, जिससे वह बेहद नाराज हो गया था।
  10. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर इस घटना की निंदा की है। अमेरिका के ओरलैंडो में शूटआउट की घटना से हैरान हूं। मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।
  11. हमलावर के बारे जानें -ओमर सिद्दीक़ी मतीन, उम्र 29 साल है। अमेरिकी नागरिक है, न्यूयॉर्क में जन्म हुआ और फ़्लोरिडा में रहता था। माता-पिता अफ़ग़ानिस्तान से हैं। FBI के मुताबिक, गोलीबारी से पहले इमरजेंसी हेल्पलाइन (911) पर फ़ोन किया था। ख़ुद के IS से जुड़े होने का दावा। 2013-14 में FBI ने पूछताछ की थी। आतंकी गतिविधियों से जुड़े होने के शक। आत्मघाती हमलावर अबु सालेह के संपर्क में होने के शक। पूछताछ के बाद FBI का मतीन को ख़तरा मानने से इनकार। 2007 से गार्ड के तौर पर काम करता था। सहकर्मियों के मुताबिक,लोगों को मारने की बात करता था। पिछले हफ़्ते हथियार, हैंडगन और लॉन्ग गन ख़रीदा।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement