NDTV Khabar

आरोपी मेजर निखिल हांडा फर्जी फेसबुक अकाउंट और डेटिंग साइट के जरिए महिलाओं से करता था 'दोस्‍ती'

आरोपी मेजर निखिल हांडा दिल्ली के पटेल नगर की निवासी महिला से क्वैकक्वैक डॉट इन के माध्यम से कई वर्ष पहले दोस्ती की थी. तलाकशुदा महिला मेजर हांडा की काफी करीबी थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आरोपी मेजर निखिल हांडा फर्जी फेसबुक अकाउंट और डेटिंग साइट के जरिए महिलाओं से करता था 'दोस्‍ती'

फाइल फोटो

नई दिल्ली: मेजर द्विवेदी की पत्नी शैलजा की हत्या का आरोपी निखिल हांडा पुलिस रिमांड पर चल रहा है. गुरुवार को पुलिस ने आला ए कत्ल बरामद करने के लिए आरोपी मेजर को मेरठ लेकर गई. वहीं पुलिस का कहना है कि आरोपी निखिल हांडा एक डेटिंग साइट के जरिए एक और महिला से दोस्‍ती थी और शैलजा की हत्‍या करने के बाद उसने उस महिला को फोन भी किया था. आपको बता दें कि आरोपी मेजर निखिल हांडा दिल्ली के साकेत का रहने वाला है. उसके पिता नेवी में अफसर हैं. निखिल की तैनाती नागालैंड के दीमापुर में थी. 2 महीने पहले तक मेजर अमित द्विवेदी और उनकी पत्नी शैलजा द्विवेदी भी दीमापुर में थे. मेजर अमित और मेजर निखिल दोनों अच्छे दोस्त थे.
10 बातें
  1. दिल्‍ली पुलिस ने दावा किया है कि निखिल हांडा रिमांड में लगातार अपने बयान बदल रहा है. अब तक की जांच में पुलिस को शैलजा के मोबाइल के साथ ही हांडा के भी दो मोबाइल मिले हैं. इनके पासवर्ड मिल जाने के बाद पुलिस को उनसे कई अहम सूबत मिल गए हैं.
  2. पुलिस का दावा है हांडा ने वारदात के वक्त भी वही कपड़े पहने थे, जिनमें वो पकड़ा गया. हो सकता है कि कार की ड्राइविंग सीट पर होने की वजह से खून ना लगा हो. 
  3. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हांडा के न केवल कई फर्जी फेसबुक अकाउंट थे बल्कि फर्जी प्रोफाइल के जरिये डेटिंग साइट पर वह महिलाओं से दोस्ती करता था. 
  4. हांडा दिल्ली के पटेल नगर की निवासी महिला से क्वैकक्वैक डॉट इन के माध्यम से कई वर्ष पहले दोस्ती की थी. तलाकशुदा महिला मेजर हांडा की काफी करीबी थी. महिला को पता था कि मेजर हांडा शादीशुदा है और वह शैलजा द्विवेदी को भी जानती थी लेकिन उनसे कभी मिली नहीं थी. शैलजा की हत्या के बाद मेजर हांडा ने सबसे पहले उसे फोन किया था इसलिए पुलिस ने उससे पूछताछ की.
  5. पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) विजय कुमार ने कहा कि 40 वर्षीय मेजर निखिल हांडा जांच अधिकारियों को गुमराह कर रहा है और गलत जानकारी दे रहा है. 
  6. आरोपी मेजर ने रविवार को 35 वर्षीय शैलजा द्विवेदी की हत्या करने के आरोप में मेरठ से गिरफ्तार किया गया था. अधिकारी ने बताया कि हांडा ने घटना के बाद अपने भाई से मुलाकात की और दोनों हांडा की कार में सी आर पार्क से अक्षरधाम तक साथ गए. अधिकारी ने बताया कि उसके भाई ने पुलिस को बताया कि हांडा ने कहा कि उससे सड़क दुर्घटना हुई है और उसने महिला की हत्या के बारे में जिक्र नहीं किया. 
  7. पुलिस अधिकारी ने बताया कि वे हांडा को दिल्ली और मेरठ के कई स्थानों पर ले गए जहां उसने महिला की गर्दन काटने में प्रयुक्त हथियारों को फेंका था लेकिन हथियार अभी तक नहीं मिला है. पुलिस अभी तक उस तौलिये को बरामद नहीं कर पाई है जिसे हांडा के दावे के मुताबिक कार पर खून के धब्बे पोंछने के बाद उसने जला दिया था. 
  8. दिल्ली के कैंट इलाके में शनिवार को बरार स्क्वायर पर एक महिला का शव पाया गया था जिसकी गर्दन काट दी गई थी. पहले पुलिस को सूचित किया गया कि दुर्घटना में महिला की मौत हो गई है लेकिन बाद में उसकी गर्दन कटी हुई पाई गई. आरोपी ने कथित तौर पर उसके चेहरे और शव को कार से कुचल दिया था ताकि घटना को दुर्घटना का रूप दिया जा सके. 
  9. मेजर निखिल सीधा मेरठ कैंट इलाके ही गया क्योंकि वो मेरठ में 3 साल तक तैनात रहा है. वो अफसर मेस में जाकर रुक गया उसे लगा कि ये जगह उसके लिए सुरक्षित है क्योंकि पुलिस यहां नहीं घुस सकती लेकिन बीच-बीच में वो अपना मोबाइल ऑन कर इंटरनेट कॉल करता रहा. जिससे उसकी सही लोकेशन पुलिस को मिलती रही. 
  10. मेजर हांडा को लगा कि अगर उसे मिलिट्री पुलिस पकड़ती है तो शायद वो कुछ समय के लिए सिविल पुलिस की कड़ी कार्रवाई से बच जाए. ऐसा लगता है कि पुलिस ने अफसर मेस के पास हांडा की होंडा सिटी कार को देख लिया था. पुलिस सिविल यूनिफ़ॉर्म में कार के पास रही और जैसे ही हांडा मेरठ के कार मार्किट में अपनी कार को बेचने के लिए बाहर निकला उसे पकड़ लिया गया. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement