NDTV Khabar

PM मोदी ने राहुल गांधी को दिया चैलेंज, कहा- कर्नाटक की उपलब्धियों पर किसी भी भाषा में बिना कागज के बोल कर दिखाएं, 5 बातें

राहुल के 15 मिनट बोलने का मौका देने वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने मुझे चुनौती दी थी कि अगर मैं संसद में 15 मिनट बोलूंगा तो मोदी जी बैठ भी नहीं पाएंगे.वे 15 मिनट बोलेंगे ये भी एक बड़ी बात है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी ने राहुल गांधी को दिया चैलेंज, कहा- कर्नाटक की उपलब्धियों पर किसी भी भाषा में बिना कागज के बोल कर दिखाएं, 5 बातें

फाइल फोटो

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार से मिशन कर्नाटक का आग़ाज़ कर दिया है. मैसूर के चामराजनगर की रैली में पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला. उन्‍होंने कहा कि अति उत्साह में राहुल मर्यादा तोड़ देते है ओर उन्‍होंने आज तक मजदूरों की तारीफ में एक शब्‍द नहीं कहा है. इतना ही नहीं पीएम ने संसद में 15 मिनट बोलने की राहुल की चुनौती पर भी पलटवार किया. पीएम मादी ने कहा कि मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि राहुल कर्नाटक की उपलब्धियों पर आकर किसी भाषा में बिना कागज के बोल कर दिखाएं.
पांच बातें
  1. पीएम मोदी ने कहा कि हमारे कांग्रेस के नए अध्यक्ष कभी-कभी अति उत्साह में अपनी मर्यादा तोड़ देते हैं. उन्‍होंने मनमोहन सिंह के आदेश का अनादर किया था और उनके फैसले को भरी पत्रकार सभा में फाड़ दिया था. उन्‍होंने कहा कि राहुल गांधी ने मज़दूरों की तारीफ़ में एक शब्द नहीं कहा है. अगर वह मजदूरों के लिए कुछ कहते तो अच्‍छा होता.
  2. पीएम मोदी ने कहा कि राहुल पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बात नहीं मानते कम से कम अपनी माता जी की बात तो मान ले. मनमोहन सिंह ने कहा था हर गांव में बिजली पहुंचाएंगें लेकिन आपकी माता जी सोनिया ने कहा एक कदम आगे जाकर 2009 तक हर घर में बिजली पहुंचाने का वादा किया था लेकिन अपना वादा पूरा क्‍यों नहीं कर सके. 2014 तक आपने कुछ नहीं किया लेकिन आज कांग्रेस के नेता देश के मजदूरों का मज़ाक उड़ाते हैं.
  3. राहुल के 15 मिनट बोलने का मौका देने वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने मुझे चुनौती दी थी कि अगर मैं संसद में 15 मिनट बोलूंगा तो मोदी जी बैठ भी नहीं पाएंगे. उन्‍होंने कहा कि वे 15 मिनट बोलेंगे ये भी एक बड़ी बात है और मैं बैठ नहीं पाऊंगा तो मुझे याद आता है कि क्या सीन है. उन्‍होंने कहा कि राहुल नामदार है और हम कामदारों की क्‍या हैसियत. हम अच्‍छे कपड़े भी नहीं पहन सकते तो आपके साथ कहां बैठ सकते हैं. उन्‍होंने कहा कि अगली बार जब 15 मिनट बोले तो करीब 5 बार श्रीमान विश्वसरैया का नाम भी ले लेना.
  4. पीएम मोदी ने कहा मैं उन्हें (राहुल को) चुनौती देता हूं कि वो कर्नाटक की उपलब्धियों पर आकर किसी भाषा में बिना कागज के बोल कर दिखाएं. पीएम ने कांग्रेस पर परिवारवाद और भाई-भतीजावाद की राजनीति कर लोकतंत्र को ख़राब करने का आरोप लगाया. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस के पास ऐसा नेतृत्‍व है जिन्‍हें देश के इतिहास के बारे में पता ही नहीं है. उन्‍हें किसी महापुरुष के बारे में भी पता नहीं है.
  5. पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक में 2+1 का फॉर्मूला चल रहा है. सिद्धारमैया खुद दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं कि कहीं से बच जाएंगे. खुद जहां से पहले लड़े थे वहां बेटे को भेज दिया है. उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी ने कहा कि सरकार की वजह से यहां न तो लॉ है और ना ऑर्डर है. इतना ही नहीं लोकायुक्‍त भी सलामत नहीं है. उन्‍होंने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस होती है वहां-वहां भ्रष्‍टाचार, भाई भतीजावाद होता है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement