Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

BJP को 2019 में रोकने के लिए विपक्षी दल आज होंगे एकजुट, 'महागठबंधन' सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा, 10 बातें...

अगले साल लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) होने हैं. इससे पहले विपक्ष बीजेपी (BJP) और मोदी सरकार (Modi Govt) के खिलाफ एकजुट होने का प्रयास कर रहा है.

BJP को 2019 में रोकने के लिए विपक्षी दल आज होंगे एकजुट, 'महागठबंधन' सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा, 10 बातें...

कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान दिखी थी विपक्षी एकजुटता की झलक...

नई दिल्ली: अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं. इससे पहले विपक्ष बीजेपी और मोदी सरकार के खिलाफ एकजुट होने का प्रयास कर रहा है. इसी के मद्देनजर सोमवार को विपक्षी नेताओं की बैठक होगी. बताया जा रहा है कि बैठक में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए एक 'महागठबंधन' बनाने पर भी चर्चा होगी. यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह बैठक मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम विधानसभा चुनाव के परिणामों की घोषणा और संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से ठीक एक दिन पहले हो रही है. तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू बैठक का समन्वय कर रहे हैं. उन्होंने सभी गैर-भाजपा दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है. उधर, बीजेपी ने बैठक पर तंज कसा है. बैठक का उपहास उड़ाते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार को हटाने के बारे में सोचने से पहले उन्हें प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार घोषित करना चाहिए.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने बुलाई है बैठक

  1. कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की अध्यक्ष सोनिया गांधी के भी बैठक में भाग लेने की उम्मीद है. बैठक के दौरान विपक्ष के संसद के शीतकालीन सत्र के लिए एक संयुक्त रणनीति बनाए जाने की भी उम्मीद है.

  2. सूत्रों ने बताया कि संसद भवन सौंध में होने वाली बैठक के दौरान विपक्षी दल सरकारी विधेयकों और राफेल सौदे तथा किसानों से संबंधित मुद्दों पर अपने रुख पर चर्चा कर सकते हैं. 

  3. सूत्रों ने बताया कि बैठक में केवल गैर-भाजपा दलों के प्रमुखों को ही नहीं, बल्कि केरल, पंजाब और पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों को भी आमंत्रित किया गया है.

  4. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी, नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के महासचिव एस सुधाकर रेड्डी के भी बैठक में भाग लेने की उम्मीद है.

  5. द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) अध्यक्ष एमके स्टालिन, आम आदमी पार्टी (आप) संयोजक अरविंद केजरीवाल, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव और लोकतांत्रिक जनता दल (एलजेडी) के नेता शरद यादव भी उन लोगों में शामिल हैं जो इस बैठक में भाग ले सकते हैं.

  6. सपा के एक सूत्र ने बताया कि समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव के भी इस बैठक में शामिल होने की संभावना है. हालांकि यदि वह किसी कारणवश नहीं शामिल हो पाए तो पार्टी के वरिष्ठ नेता राम गोपाल यादव बैठक में मौजूद रहेंगे.

  7. राकांपा नेता डीपी त्रिपाठी ने कहा, 'महंगाई, नोटबंदी और जीएसटी के दुष्प्रभाव, बेरोजगारी आदि बैठक के एजेंडे में होंगे.' आप नेताओं ने नायडू द्वारा बुलाई गई विपक्ष की बैठक में पार्टी की भागीदारी की पुष्टि की है.

  8. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल पहली बार ऐसी किसी बैठक का हिस्सा होंगे.

  9. इससे पूर्व 22 नवंबर को बैठक किए जाने की योजना थी, लेकिन पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के कारण इसे टाल दिया गया था.

  10. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने विपक्षी दलों की बैठक का उपहास उड़ाते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार को हटाने के बारे में सोचने से पहले उन्हें प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार घोषित करना चाहिए. उन्होंने कहा, 'यह देखना वास्तव में अच्छा लगता है कि विपक्षी पार्टियां हमारे खिलाफ गठबंधन का प्रयास कर रही हैं.