NDTV Khabar

'पद्मावत' के विरोध में हिंसा, हिंसा के विरोध में एकजुट नेता-अभिनेता, जानें किसने क्या कहा..

पद्मावत को लेकर हो रहे विरोध व हिंसा पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा, कोई भी वजह इतनी बड़ी नहीं हो सकती, जिसके आधार पर बच्चों के ख़िलाफ हिंसा को जायज़ ठहराया जा सके.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'पद्मावत' के विरोध में हिंसा, हिंसा के विरोध में एकजुट नेता-अभिनेता, जानें किसने क्या कहा..

पद्मावत के विरोध में हिंसा, हिंसा के विरोध में एकजुट सोशल मीडिया, जानें किसने क्या कहा..

नई दिल्ली: पद्मावत फिल्म के विरोध में है करणी सेना और करणी सेना के विरोध में हैं लाखों लोग. इनमें सेलिब्रिटीज भी हैं और आम जन भी. संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत आज रिलीज हो रही है मगर करणी सेना इसे लेकर राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों के कस्बों और शहरों में हिंसक प्रदर्शन रोक नहीं रही है. प्रशासन को कड़े निर्देश हैं हिंसा की घटनाओं से निपटने के लिए बावजूद इसके सोशल मीडिया पर वायरल होते वीडियो और मीडिया में आती तस्वीरें हालात के नाजुक होने की साफ इशारा कर रही हैं.
आइए जानें इस फिल्म को लेकर नेताओं से लेकर अभिनेता क्या कह रहे हैं...
  1. पद्मावत फिल्म पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि किसी धर्म या जाति की भावनाओं को आहत करने वाली फिल्मों को नहीं बनाया जाना चाहिए.
  2. पद्मावत को लेकर हो रहे विरोध व हिंसा पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा, 'कोई भी वजह इतनी बड़ी नहीं हो सकती, जिसके आधार पर बच्चों के ख़िलाफ हिंसा को जायज़ ठहराया जा सके. हिंसा और नफरत कमजोर लोगों के हथियार हैं. नफरत और हिंसा का बीजेपी जिस तरह इस्तेमाल कर रही है, उससे पूरा मुल्क़ जल रहा है.'
  3. पूर्व सेना प्रमुख और केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को तोड़फोड़ की इजाजत नहीं देती तो जो विरोध कर रहे हैं उनके साथ बैठकर इसे सुलझाया जाए
  4. पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने ट्विटर पर लिखा, 'गुड़गांव में बच्चों के साथ गुंडों ने जो किया, उससे एक भारतीय होने के नाते मेरा सिर शर्म से झुक गया. गवर्नेंस कहां है? या फिर सुरक्षित वोटबैंक की ख़ातिर क्या ये मायने ही नहीं रखता?'
  5. कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने ट्विटर पर लिखा, 'फिल्म पद्मावत के विरोधियों ने आज गुड़गांव में बच्चों से भरी स्कूल बस पर हमला करके अत्यंत निंदनीय कृत्य किया. जितने वो दोषी हैं उतनी ही हरियाणा की बीजेपी सरकार क्योंकि मुख्यमंत्री खट्टर एक तमाशबीन की तरह पूरे राज्य को रोज़ जलते देख रहे हैं. प्रधानमंत्री की ख़ामोशी भी कायराना है.'
  6. फिल्‍म अभिनेता फरहान अख्‍तर ने कहा कि स्कूल बस पर हमला एक आंदोलन नहीं है. यह आतंकवाद है और जिन लोगों ने यह किया वे आतंकवादी हैं.
  7. अभिनेता और राइटर सुहेल सेठ ने करणी सेना को धिक्कारते हुए कहा, 'गौरवपूर्ण राजपूतों को बेइज्जत न करो करणी सेना. तुम लोग डरपोक हो और ऐसे लोग हो जिन्हें कोई लिहाज नहीं है. आप लोग किसी समुदाय का प्रतिनिधित्व नहीं करते. पास के किसी आईने में झांककर देखो.'
  8. फिल्म निर्माता और निर्देशक सुधीर मिश्रा ने कहा, अब वे बच्चों को निशाना बना रहे हैं, फिर चाहे वे किसी भी वजह से ये सब कर रहे हों. आजकल द्वेष को लेकर किए जा रहे कृत्य संसदीय क्षेत्र को खुश करने के लिए किए जा रहे हैं. मैं जानना चाहता हूं कि वे कौन लोग हैं जो बच्चों पर हमला करने वालों को सपोर्ट करते हैं.
  9. फिल्म निर्माता और निर्देशक अनुराग कश्यप ने एक ट्वीट का जिक्र करते हुए कहा, राजपूत की लड़ाई बस यहीं तक सीमित है.
  10. दिल्‍ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि मैं भाजपा और करणी सेना से पूछना चाहता हूं - आप इतने निर्मम और निर्दयी हैं कि मासूम बच्चों को भी नहीं बख्शा? आप कहते हो हम हिंदुओ, राजपूतों के लिए लड़ रहे हैं. पर इन बच्चों में भी कई हिंदू होंगे, शायद कुछ राजपूत भी हों. आपने बच्चों पर हमला क्यों किया? आख़िर किसके लिए लड़ रहे हो?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement