NDTV Khabar

PM का राष्ट्र के नाम संदेश: अंतरिक्ष में तीन मिनट के 'मिशन शक्ति' में LIVE सैटेलाइट को मार गिराया, 8 बड़ी बातें

पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि हमने अंतरिक्ष में LIVE सैटेलाइट को तीन मिनट के 'मिशन शक्ति ' में मार गिराया. साथ ही कहा कि आज भारत अंतरिक्ष महाशक्ति बन गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM का राष्ट्र के नाम संदेश: अंतरिक्ष में तीन मिनट के 'मिशन शक्ति' में LIVE सैटेलाइट को मार गिराया, 8 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) से ठीक पहले 'विशेष संदेश' के साथ पूरे देश को संबोधित किया. पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि हमने अंतरिक्ष में LIVE सैटेलाइट को तीन मिनट के 'मिशन शक्ति ' में मार गिराया. साथ ही कहा कि आज भारत अंतरिक्ष महाशक्ति बन गया है. अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत चौथा ऐसा देश बन गया जिसके पास ऐसी उपलब्धि है. हर भारतीय के लिए इससे बड़े गर्व का पह नहीं हो सकता. इसको लेकर बुधवार सुबह पीएम मोदी ने ट्वीट किया था. ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा था, 'मेरे प्यारे देशवासियों, आज सवेरे 11.45 -12 बजे मैं एक महत्वपूर्ण संदेश लेकर आपके बीच आऊंगा.'
PM के संबोधन की 8 बड़ी बातें
  1. आज 27 मार्च को कुछ ही समय पहले भारत ने एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है. भारत ने आज अपना नाम अंतरिक्ष महाशक्ति के रूप में दर्ज करा दी है. अब तक दुनिया के 3 देश चीन, रूस और अमेरिका के पास ही यह उपलब्धि थी. अब भारत चौथा ऐसा देश बन गया है, जिसके पास यह उपलब्धि है. 
  2. हर भारतीय के लिए इससे बड़े गर्व का पल नहीं हो सकता. कुछ ही समय पहले हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर Low Earth Orbit (LEO) में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है. यह सैटेलाइट जो कि एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, एसेट मिसाइल द्वारा मार गिराया गया.
  3. 'मिशन शक्ति' को तीन मिनट में सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया. यह अत्यंत कठिन ऑपरेशन था. इसमें उच्च गुणवत्ता वाली तकनीक की जरूरत थी. सभी निर्धारित उद्देश्य प्राप्त कर लिए गए. यह भारत में एंटी सैटेलाइट (ए-सेट) मिसाइल द्वारा सिद्ध किया गया.
  4. सबसे पहले में मिशन शक्ति से जुड़े डीआरडीओ के वैज्ञानिकों, अनुसंधानकर्ताओं और अन्य संबंधित कर्मचारियों को बधाई देता हूं, जिन्होंने इस सफलता को पाने में योगदान दिया. हमें अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है. आज उन्होंने हमारे देश का मान बढ़ाया है. 
  5. अंतरिक्ष हमारी जीवनशैली का एक अहम हिस्सा बन गया है. आज हमारे पास पर्याप्त संख्या में उपग्रह हैं. ये अलग-अलग क्षेत्रों कृषि, आपदा प्रबंधन, संचार, टीवी, मौसम की जानकारी, शिक्षा, नेविगेशन, मेडिकल में योगदान दे रहे हैं. परिचालन, रेलवे, जैसे सभी क्षेत्रों में उपग्रहों का इस्तेमाल किया जा रहा है. दुनिया में इसका महत्व बढ़ने वाला है. ऐसे में एंटी सैटेलाइट भारत को सुरक्षा की दृष्टि से और विकास यात्रा की द्ष्टि से एक नई मजबूती देगा.
  6. पीएम मोदी ने कहा कि हमने जो नई क्षमता हासिल की है, यह किसी के खिलाफ नहीं है बल्कि तेज गति से बढ़ रहे हिन्दुस्तान की रक्षात्मक पहल है. उन्होंने वैज्ञानिकों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी. 

  7. उन्होंने कहा कि इससे किसी अंतरराष्ट्रीय कानून या संधि का उल्लंघन नहीं हुआ है. भारत हमेशा से अंतरिक्ष में हथियारों की होड़ के विरूद्ध रहा है और इससे (उपग्रह मार गिराने से) देश की इस नीति में कोई परिवर्तन नहीं आया है.

  8. साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि शांति एवं सुरक्षा का माहौल बनाने के लिए एक मजबूत भारत का निर्माण जरूरी है और हमारा उद्देश्य शांति का माहौल बनाना है, न कि युद्ध का माहौल बनाना.




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement