NDTV Khabar

IIT गांधीनगर में पीएम मोदी ने समझाया विकास का 'JAM' मॉडल, पढ़े भाषण की 10 बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'डिजिटल डिवाइड' होने से समाज में बड़ा असंतुलन पैदा हो जाएगा.

241 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IIT गांधीनगर में पीएम मोदी ने समझाया विकास का 'JAM' मॉडल, पढ़े भाषण की 10 बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फाइल फोटो)

गांधीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को गुजरात के गांधी नगर में आईआईटी (IIT) कैंपस का उद्घाटन किया. इस मौके पर पीएम ने डिजिटल साक्षरता को देश के हर हिस्से तक फैलाने पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि डिजिटल डिवाइड होने से समाज में बड़ा असंतुलन पैदा हो जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि भारत सरकार 'JAM' फॉर्मूले पर काम कर रही है. 'J' मतलब जनधन बैंक खाता. 'A' मतलब 'आधार' और 'M' मतलब मोबाइल. उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश है कि देश में डिजिटलीकरण को बढ़ावा देने के लिए सभी को 'JAM' से जोड़ा जाए.
पीएम ने डिजिटल साक्षरता पर दिया जोर
  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमें ध्यान रखना होगा की देश में डिजिटल डिवाइड पैदा न हो. डिजिटल डिवाइड होने से समाज में बड़ा असंतुलन पैदा हो जाएगा. 
  2. देश के हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क को पहुंचाने का काम चल रहा है. आज छोटे-छोटे गांव में भी डिजिटल शिक्षा देने का लक्ष्य पूरा हो रहा है.
  3. प्रधानमंत्री ने डिजिटल साक्षरता के लिए जागरूक होने का एक उदाहरण भी दिया. उन्होंने कहा कि क्या लोग व्हाट्सएप फॉरवर्ड करने के लिए कोई क्लास लेते हैं? उन्होंने पूछा कि क्या इसके लिए कोई इंस्टीट्यूट है? 
  4. पीएम मोदी ने कहा कि घर में बच्चों को रिमोट से टीवी का चैनल बदलते देख बुजुर्ग भी ऐसा करना सीख जाते हैं.  
  5. प्रधानमंत्री ने IIT गांधीनगर में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया की टॉप-500 यूनिवर्सिटी में भारत की एक भी यूनिवर्सिटी नहीं है और हमें यह कलंक मिटाना होगा.
  6. पीएम ने कहा कि 2022 में आजादी के 75 साल पूरे होने के अवसर पर हम दुनिया के सामने यह कर सकते हैं कि हमारी यूनिवर्सिटी भी दुनिया के गिने-चुने टॉप विश्वविद्यालयों में शामिल हो जाए.
  7. डिजिटल साक्षरता पर पीएम ने कहा कि 'हमारी सरकार का लक्ष्य देश के हर गांव को डिजिटल बनाना है. ग्रामीण भारत में डिजिटल शिक्षा का सपना पूरा होगा और हर वर्ग को तकनीक से जोड़ा जाएगा.
  8. पीएम ने कहा सरकार देश के अलग-अलग हिस्सों में डिजिटल लिटरेसी बढ़ाने के लिए काम कर रही है. अगर यूजर फ्रेंडली टेक्नोलॉजी बनाई जाए तो हम डिजिटल लिटरेसी की तरफ और तेजी से बढ़ सकते हैं. 
  9. पीएम मोदी ने सोलर एनर्जी से चलने वाले कुकिंग इक्विपमेंट बनाने पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि इससे गरीबों को गैस का पैसा बचेगा. 
  10. पीएम ने इन सबके के बीच विपक्षी पार्टियों पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि अगर मैंने चुनाव के समय यहां जमीन दिया होता तो आज जैसे बुलेट ट्रेन का विरोध हो रहा है वैसे ही इसका होता. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement