NDTV Khabar

सबसे पहले अटल जी को देखने गया, समारोहों में आडवाणी जी की रक्षा करता हूं, राहुल गांधी के भाषण की 10 बातें

राहुल ने स्थानीय कार्यकर्ताओं की ओर मुखातिब होते हुये कहा कि मुंबई की तरह कांग्रेस भी समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर काम करती है. कांग्रेस भी सबको साथ लेकर समेकित भारत का निर्माण करती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सबसे पहले अटल जी को देखने गया, समारोहों में आडवाणी जी की रक्षा करता हूं, राहुल गांधी के भाषण की 10 बातें

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज मुंबई में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया है.

मुंबई: मुंबई में आयोजित कांग्रेस के कार्यकर्ता सम्मेलन में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर से बीजेपी और नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. राहुल ने कहा, 'बीजेपी को हमने कर्नाटक में हराया, गुजरात में वे मुश्किल से जीत पाये. बीजेपी इस बार राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में पूरी तरह साफ हो जाएगी. कांग्रेस और दूसरी पार्टियां मिलकर लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिलकर हरा देंगी'. राहुल ने स्थानीय कार्यकर्ताओं की ओर मुखातिब होते हुये कहा कि मुंबई की तरह कांग्रेस भी समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर काम करती है. कांग्रेस भी सबको साथ लेकर भारत का निर्माण करती है. उन्होंने इस कार्यक्रम में मराठी भाषा से भाषण की शुरुआत की.
राहुल गांधी के भाषण की 10 बड़ी बातें
  1. हिंदुस्तान में बहुत सारे शहर हैं पर मुम्बई एक ऐसा शहर है जो सबको जोड़ने का काम करता है. कोई भी आता है मुंबई उसे जाति-धर्म भूल अपनाती है. मुंबई में काम की पहचान होती है. इसलिए मुम्बई हिंदुस्तान की आर्थिक राजधानी है और दुनिया की राजधानी बनने की राह पर है.
  2. जैसे मुंबई सबको लेकर चल रही है वैसे ही कांग्रेस सबको साथ लेकर चलती है. कांग्रेस पार्टी ने किसी भी व्यक्ति को डराकर कुचलने के काम नहीं किया. मीडिया से कहना चाहता हूं कांग्रेस पार्टी की सरकार में आप खुल कर हमारे बारे में बोल सकते थे. कांग्रेस ने ये दिया है आपको.
  3. नरेंद्र मोदी, आरएसएस ने मुंबई और हिंदुस्तान को क्या दिया? साल में 2 करोड़ युवाओं को प्रधानमंत्री ने रोजगार देने का वादा किया था. 2.5 लाख करोड़ रुपये देकर कुछ अमीरों के कर्जा माफ कर दिया. लेकिन किसानों के लिए अरुण जेटली कहते हैं किसानों का कर्जा माफ करना हमारी पॉलिसी नहीं है.
  4. नीरव मोदी 35 हजार करोड़, माल्या 9 हजार करोड़ रुपये लेकर भाग चुका है. ललित मोदी भी भाग चुका है. (तभी एक कार्यकर्ता ने आवाज दी सिर्फ नरेंद्र मोदी बचा है) राहुल ने जवाब दिया 'वो भी भाग जाएगा'
  5. प्रधानमंत्री के आवाज ध्यान से सुनो उनकी आवाज में घबराहट है. जयेश शाह के पिता (अमित शाह) जिसके बेटे ने 50 हजार को 80 करोड़ में बदल दिया. वो भी घबराए हैं. देश का युवा रोजगार मांग रहा है. लेकिन प्रधानमंत्री कह रहे हैं तुम आपस में लड़ो, देश मेरे भाषणों से चलेगा. हमारे स्टेज से आपको सच्चाई सुनाई देगी.
  6. नीरव मोदी, मेहुल चौकसी जिसे प्रधानमंत्री नीरव भाई और मेहुल भाई कह कर बुलाते हैं, 35 हजार करोड़ लेकर भाग गया लेकिन प्रधानमंत्री ने एक शब्द नहीं बोला. नरेंद्र मोदी ने कहा था कि वे देश के चौकीदार हैं लेकिन हम गलत समझे वो देश के गिने चुने अमीरों के चौकीदार हैं.
  7. राहुल गांधी ने बिना नाम लिए कहा कि उनके (बीजेपी) एक नेता ने आ कर कहा कि देश को कांग्रेस ही चला सकती है तभी वहां मौजूद किसी ने आवाज दी "आडवाणी"... राहुल ने कहा नहीं लेकिन आगे कहा कि मैं अलग-अलग समारोह में जाता हूं वहां आडवाणी जी की रक्षा करता हूं.
  8. राहुल ने कहा कि अटलजी बीमार हैं सबसे पहले मैं वहां गया. क्योंकि मैं समझता हूं. उन्होंने हमारे खिलाफ लड़ाई लड़ी लेकिन वो देश के प्रधानमंत्री रहे हैं उन्होंने ने देश के लिए काम किया है.
  9. जहां भी बीजेपी-आरएसएस के कार्यकर्ता नफरत फैलाते हैं वहां कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे और बोलें आप आग लगाओ हम प्यार बांटेंगे. 
  10. मीडिया की तरफ इशारा करते हुए राहुल ने कहा कि इनकी भी गलती नहीं है. डरे हुए हैं इनकी रक्षा की जिम्मेदारी भी आपकी है.  मीडिया से आप भी थोड़ा तो बोलना शुरू कीजिए. राफेल पर बोलिये, जय शाह पर बोलिये, पीयूष गोयल पर बोलिये.
  11. दिल्ली में बन रहे कांग्रेस पार्टी के दफ़्तर में बलिदान करने वालों के नाम होंगे. जब सावरकर जी माफी मांग रहे थे तब हमारे लोग कुर्बानी दे रहे थे.  माइक से हटने के बाद नेताओं के याद दिलाने पर राहुल फिर से माइक पर आए औऱ कहा... रमजान मुबारक.. ईद मुबारक.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement