गांधीनगर में राहुल गांधी के भाषण में थे कई 'पंच' - 5 खास बातें...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृहराज्य गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सोमवार को गांधीनगर में भी उनका यही रूप देखने को मिला, और उन्होंने अपनी रैली में भाषण के दौरान कई ऐसे वाक्य कहे, जिन्हें आसानी से 'पंच' की संज्ञा दी जा सकती है. सो, आइए पढ़ते हैं - राहुल गांधी के भाषण की खास पंक्तियां...

गांधीनगर में राहुल गांधी के भाषण में थे कई 'पंच' - 5 खास बातें...

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

गांधीनगर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पिछले कुछ समय से लगातार अपनी पुरानी छवि से बाहर निकलते और केंद्र सरकार व BJP पर गरजते-बरसते दिखाई दे रहे हैं. उनके भाषणों में पहले से ज़्यादा सार भी रहने लगा है, और अब उनके बयानों से सरकार भी सकते में नज़र आने लगी है. वह नए-नए शब्द गढ़कर लगातार प्रधानमंत्री और BJP प्रमुख अमित शाह पर निशाना साधते रहते हैं, और ऐसा लगने भी लगा है कि गुजरात में 22 साल से निर्बाध शासन कर रही BJP के लिए इस बार राह उतनी आसान नहीं रहेगी.

राहुल गांधी के भाषण की खास बातें

  1. गुजरात में हर 24 घंटे में 30,000 लोग रोज़गार तलाशने निकलते हैं, लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार सिर्फ 400 लोगों को रोज़गार देती है.

  2. गुजरात की आवाज़ को न दबाया जा सकता है, न खरीदा जा सकता है. गुजरात अनमोल है, उसे कभी ख़रीदा नहीं गया. उसे कभी ख़रीदा नहीं जा सकता, उसे कभी ख़रीदा नहीं जाएगा. गांधी जी की आवाज को भी अंग्रेज़ों ने दबाने की कोशिश की थी, लेकिन उन्होंने सुपरपावर को भगा दिया.

  3. नरेंद्र मोदी जी 'मन की बात' कहते हैं, लेकिन मैं मोदी जी से गुजरात के 'दिल की बात' कहना चाहता हूं - गुजरात के युवा शिक्षा चाहते हैं, लेकिन गुजरात के विश्वविद्यालय उद्योगपतियों के हाथों सौंप दिए गए हैं. इसके अलावा टाटा को नैनो कार के लिए 35,000 करोड़ रुपये दिए गए, जिनसे किसानों का कर्ज़ माफ हो सकता था. अब मोदी जी बताएं, उन पैसों से कितनी नैनो कारें बनीं.

  4. PM नरेंद्र मोदी ने BJP प्रमुख अमित शाह के बेटे के बारे में एक शब्द भी नहीं बोला, जबकि वह कहते थे - न खाऊंगा, न खाने दूंगा - लेकिन अब तो उन्होंने खिलाना शुरू कर दिया.

  5. नरेंद्र मोदी सरकार का जीएसटी दरअसल जीएसटी नहीं, 'गब्बर सिंह टैक्स' है. मोदी जी ने पूरे देश की इकोनॉमी को चौपट कर दिया है.