NDTV Khabar

अनुष्‍का शर्मा: भगवान मुझे मुश्किलों में डालता है तो उससे निकलने की शक्ति भी देता है...'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अनुष्‍का शर्मा: भगवान मुझे मुश्किलों में डालता है तो उससे निकलने की शक्ति भी देता है...'
नई दिल्‍ली: अभिनेत्री अनुष्का शर्मा का कहना है कि करियर का विकास उनके लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन वह एक बेहतर इंसान बनने के लिए अपने जीवन में आत्ममंथन करते रहना पसंद करती हैं. यह पूछे जाने पर कि वह किस तरह की उपलब्धि हासिल करना चाहती हैं? अनुष्का ने आईएएनएस से कहा, 'मैं बस एक बेहतर इंसान बनना चाहती हूं.' अनुष्का ने कहा, "मुझे लगता है कि खुद में सर्वश्रेष्ठ खोजने की गुंजाइश हमेशा रहती है और आपकी जो कमिया हैं, उनसे अन्य लोग प्रभावित हो सकते हैं. एक व्यक्ति के रूप में, मैं हमेशा आत्मविश्लेषी हूं. मैं ऐसा इंसान बनना चाहती हूं, जो दूसरों की मदद करे, न सिर्फ खुद बल्कि दूसरों को भी खुशियां और सहजता दे सके.'

उन्होंने कहा, "अंतत: मेरा करियर जरूरी है, लेकिन एक इंसान के रूप में बढ़ना भी उतना ही महत्वपूर्ण है.' यह पूछे जाने पर कि सोशल मीडिया पर उनके व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन से संबंधित चर्चा से क्या उन्हें परेशानी होती है? 28 वर्षीया अभिनेत्री ने कहा, "मुझे लगता है कि सब कुछ किसी वजह से ही होता है. मेरा मानना है कि अगर भगवान मुझे मुश्किलों में डालता है तो उससे निकलने की भी शक्ति देता है."

अनुष्का वर्तमान में बतौर निर्माता अपनी दूसरी फिल्म 'फिल्लौरी' की सकारात्मक समीक्षाओं का आनंद ले रही हैं. यह फिल्म उनके अपने बैनर, क्लीन स्लेट फिल्मस के तहत निर्मित हुई है. इसमें दिलजीत दोसांझ और सूरज शर्मा जैसे कलाकार महत्वपूर्ण भूमिकाओं में हैं. इसमें अनुष्का भूत के किरदार में हैं. इस फिल्म के बारे में अनुष्का का कहना है कि जैसा लोग सोच रहे हैं, वैसा नहीं है. यह फिल्म उन्होंने कोई संदेश देने के लिए नहीं बनाई.

सुपरस्टार शाहरुख खान के साथ 'रब ने बना दी जोड़ी' से करियर की शुरुआत करने के बाद अनुष्का ने आमिर खान की फिल्म 'पीके' और सलमान खान की फिल्म 'सुल्तान' में काम किया है. वहीं उनका कहना है कि उन्हें अपनी फिल्मों में नए चेहरों के साथ काम करना पसंद है. अनुष्का ने कहा, "हम (बतौर निर्माता) नई प्रतिभाओं और नए लोगों के साथ काम करना चाहते हैं और हम उन्हें इसलिए अवसर देना चाहते हैं, ताकि फिल्म में ताजगी और नवीनता जुड़े. जब आप अलग संवेदनशील लोगों के साथ काम करते हैं तो यह काफी रोमांचक होता है."

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement