Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

फिल्म रिव्यू: ख़ामियों से भरी है 'द लीजेंड ऑफ़ माइकल मिश्रा' | रेटिंग- 1 स्टार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फिल्म रिव्यू: ख़ामियों से भरी है 'द लीजेंड ऑफ़ माइकल मिश्रा' | रेटिंग- 1 स्टार

'द लीजेंड ऑफ माइकल मिश्रा' को पंजाब में बैन किया गया है.

खास बातें

  1. ख़ामियों से भरी पड़ी है फिल्म 'द लीजेंड ऑफ माइकल मिश्रा'.
  2. अरशद वारसी, बमन ईरानी, अदिति राव हैदरी निभा रहे हैं मुख्य किरदार.
  3. फिल्म दर्शकों को बांधकर रखने में असफल.
मुंबई:

 पंजाब में बैन हुई 'द लीजेंड ऑफ़ माइकल मिश्रा' देश के बाक़ी राज्यों में रिलीज़ हो चुकी है. फ़िल्म में मुख्य क़िरदार निभाए हैं अरशद वारसी, बमन ईरानी, इनके बेटे कायोज़े ईरानी और अदिति राव हैदरी ने, वहीं फ़िल्म का निर्देशन किया है मनीष झा ने.

टिप्पणियां

फ़िल्म की कहानी की अगर बात की जाए तो फिल्म में अरशद वारसी यानी 'माइकल मिश्रा' का क़िरदार बिहार का किडनैपर है जिसे वर्षा शुक्ला यानी आदिति राव हैदरी से मोहब्बत हो जाती है और इसी इश्क में वह अपराध जगत को छोड़ने का फ़ैसला करता है. यही है फ़िल्म की कहानी.
 
अब फ़िल्म की ख़ूबी और ख़ामियों की बात करें तो मुझे लगता है कि फ़िल्म में ख़ामियां ही ख़ामियां हैं. फिर चाहे कहानी हो, स्क्रीनप्ले हो, एक्टिंग हो या फिर फ़िल्म का निर्देशन हो.


'द लीजेंड ऑफ़ माइकल मिश्रा' किसी भी मोड़ पर आपको न तो रोचक लगती है और न ही दर्शकों को बांधकर रख पाती है. आप फ़िल्म देखते वक्त यही सोचते रहेंगे कि डायरेक्टर और एक्टर आख़िर कर क्या रहे हैं और आख़िर क्या सोचकर यह फ़िल्म बनाई है. मुझे फ़िल्म में एक भी ख़ूबी नज़र नहीं आई इसलिए मेरी ओर से फ़िल्म को एक स्टार!



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... आरती सिंह पर हुआ बिग बॉस का गहरा असर, भाई कृष्णा अभिषेक ने Video शेयर कर खोला राज

Advertisement