NDTV Khabar

गोविंदा से थप्पड़ खाने वाले संतोष ने कहा, 'दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोविंदा से थप्पड़ खाने वाले संतोष ने कहा, 'दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा'

(फोटो साभार : संतोष राय के फेसबुक अकाउंट से ली गई तस्वीर)

नई दिल्ली:

10 दिसंबर 2007, यानी आज से ठीक आठ साल पहले एक शख्स अपनी आंखों में ढेरों सपने सजाए, एक लंबा सफर तय करके मुंबई पहुंचा, लेकिन महीनेभर में ही उसके सपने चूर-चूर हो गए। यह कहानी है बिहार के रहने वाले 35-वर्षीय संतोष राय की, जिनका दावा है कि जनवरी, 2008 में बॉलीवुड एक्टर गोविंदा ने बिना वजह उन्हें थप्पड़ जड़ा था। संतोष के मुताबिक, उनकी गलती बस यही थी कि वह गोविंदा के बहुत बड़े फैन थे। अब सुप्रीम कोर्ट ने बॉलीवुड एक्टर गोविंदा से अपने एक फैन संतोष राय को में थप्पड़ मारने के मामले में माफी मांगने को कहा है।


एक्टर बनने मुंबई आए थे संतोष
एक मिडिल क्लास परिवार से नाता रखने वाले संतोष की पढ़ाई-लिखाई कोलकाता में हुई, और फिर वह फिल्मों में काम करने का सपना संजोए मुंबई आ गए। यहां आकर उन्हें जल्द ही एहसास हो गया कि फिल्मों में काम पाना आसान नहीं, लेकिन वह मेहनत करते रहे। इसी बीच, उन्हें एक शूटिंग के दौरान गोविंदा को पास से देखने का मौका मिला। संतोष बताते हैं, वह 11 साल की उम्र से फिल्में देखते आ रहे हैं, और गोविंदा की फिल्म 'मरते दम तक' उनकी देखी पहली फिल्म थी। बस, तभी से वह गोविंदा के फैन बन गए। संतोष का दावा है कि उन्होंने '90 के दशक में आई गोविंदा की लगभग सभी फिल्में देखीं।

फिल्म 'मनी है तो हनी है' की शूटिंग के दौरान पड़ा था थप्पड़
संतोष बताते हैं, गोविंदा की फिल्म 'मनी है तो हनी है' की शूटिंग चल रही थी। वह चुपचाप खड़े शूटिंग देख रहे थे और जब गोविंदा शॉट खत्म करके वापस आए, तो वह उनकी कुर्सी के पीछे खड़े हो गए। अचानक गोविंदा पीछे मुड़े और उनसे पूछा - क्या है। उन्होंने जवाब में कहा, कुछ नहीं सर, शूटिंग देख रहा हूं। बस, अचानक ही गोविंद उठे, और उन्हें थप्पड़ जड़ दिया।

'दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा'
संतोष आज भी उस घटना को नहीं भूल पाए हैं। वह कहते हैं कि जिस एक्टर की फिल्में देखकर मेरे अंदर भी फिल्मों में काम करने की इच्छा जागी, जब उसी एक्टर ने मेरे साथ ऐसा किया, तो भले ही कोर्ट उन्हें माफ कर दे, मैं दिल से उन्हें कभी माफ नहीं कर पाऊंगा। वह यह भी कहते हैं कि अपने सम्मान को वापस पाने के लिए मैंने आठ साल लड़ाई लड़ी है, और इस दौरान न मैं कुछ कर पाया, और न कुछ बन पाया।


टिप्पणियां

नहीं हो पा रही शादी...
संतोष ने कहा कि इस दौरान मेरे छह लाख रुपये से ज्यादा खर्च हुए। मैंने जो भी कमाया, वह सब अपने सम्मान को वापस पाने में गंवा दिया। आज मेरी शादी नहीं हो पा रही है, क्योंकि कोई भी लड़की ऐसे लड़के का हाथ नहीं थामना चाहती, जो कुछ न कर रहा हो। मैं अपने घर का सबसे बड़ा लड़का हूं, और पिता रिटायर हो चुके हैं, इसलिए घर की जिम्मेदारी भी उन्हीं पर है। मुंबई में छोटे-मोटे टीवी सीरियलों में काम करके जीवनयापन कर रहा हूं।

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement