NDTV Khabar

इश्कबाज, 28 फरवरी, Written Update: शिवाय ने अनिका को घर से निकाला पर कहानी में है ट्विस्ट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इश्कबाज, 28 फरवरी, Written Update: शिवाय ने अनिका को घर से निकाला पर कहानी में है ट्विस्ट

'इश्कबाज' में शिवाय ने अनिका को घर से बाहर निकाला.

नई दिल्ली:

इश्कबाज का 28 फरवरी का एपिसोड ड्रामे से भरा रहा. एक तरफ शिवाय टिया से शादी करने जा रहा है तो दूसरी तरफ अनिका नहीं चाहती कि यह शादी हो. मंडप की तरफ जाते शिवाय के लिए अनिका सीढ़ियों पर फूल बिछाती है और इस बार भी दोनों एक दूसरे से अपनी नजरें हटा नहीं पाते हैं. इस दौरान मिसेज कपूर शिवाय से कहती है कि वह अपने और अनिका के तलाक के पेपर पर साइन कर दे, लेकिन वह राजी नहीं होता. इसके बाद पिंकी भी उससे पेपर साइन करने के लिए कहती है. दादी और रूद्र उसे रोकते हैं लेकिन शिवाय पेपर साइन कर देता है.

इसके बाद शिवाय और टिया शादी के मंडप पर बैठते हैं, इतने में पिंकी अनिका को शगुन की थाली लाने के लिए भेजती है. वह उससे कहती है कि जिस कमरे में रोमी है उसी कमरे में थाली रखी हुई है. अनिका थाली लेने वहां जाती है, वह कमरे से निकल रही होती है तभी रोमी उसका हाथ पकड़ लेती है. रोमी बेहोशी की हालत में अनिका से शादी रोकने के लिए कहती है. वह उसे बताती है कि रॉबिन टिया का भाई नहीं पति है और वही दुष्यंत है. इसके बाद अनिका नीचे आती है, पिंकी शिवाय और टिया का गठबंधन करती है जिसे अनिका खोल देती है और शिवाय से शादी नहीं करने के लिए कहती है. वह सभी को रॉबिन का सच बताती है लेकिन कोई इस पर यकीन नहीं करता.

टिप्पणियां

इसके बाद मिसेज कपूर शिवाय से कहती है कि अब वह धमकी नहीं देगी और फिर वह अपने फोन से ओम को कोई वीडियो भेजती है. ओम के पास दाई मां वाला वीडियो पहुंचने के ख्याल से शिवाय घबरा जाता है और ओम का फोन आग में डाल देता है. वह कहता है कि सब कुछ ठीक करने का वक्त आ गया है. इसके बाद अनिका शिवाय को समझाने की कोशिश करती है लेकिन शिवाय उस पर भड़क जाता है कि उसने अब तक उसकी हर गलती बरदाश्त की है लेकिन वह कुछ समझती ही नहीं है. शिवाय अनिका से कहता है कि उन दोनों के बीच सब कुछ खत्म हो गया है और वह उसे घर से निकलने के लिए कहता है. जब अनिका उसे समझाने की कोशिश करती है तो वह उसका हाथ पकड़कर उसे घर से निकालता है और दरवाजा बंद कर देता है.


अनिका रोते-रोते मुस्कुराने लगती है और खन्ना को फोन करके कहती है कि फैला हुआ रायता समेटने का वक्त आ गया है. इसके बाद वह मुस्कुराने लगती है, वहीं दरवाजे के पास खड़ा शिवाय भी मुस्कुराने लगता है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement