यह ख़बर 28 मार्च, 2014 को प्रकाशित हुई थी

'ओ तेरी' : कमजोर कहानी, कमजोर निर्देशन

'ओ तेरी' : कमजोर कहानी, कमजोर निर्देशन

मुंबई:

अभिनेता सलमान खान की पेशकश है, फिल्म 'ओ तेरी'। इसके निर्माता अतुल अग्निहोत्री और निर्देशक हैं उमेश भट्ट। 'ओ तेरी' में मुख्य कलाकार हैं, पुलकित सम्राट, बिलाल अमरोही, अनुपम खेर, मंदिरा बेदी, विजय राज और सारा जेन डायस।
 
फिल्म की कहानी के बारे में अगर मैं कहूं कि एक बार फिर 'जाने भी दो यारों' बनाने की कोशिश की गई है तो गलत नहीं होगा, पर यह भी कहना ठीक होगा कि यह कोशिश नाकाम रही है।

Newsbeep

फिल्म की कॉमेडी और डायलॉग्स जबरदस्ती ठूंसे हुए लगते हैं। पुलकित और बिलाल की एक्टिंग में नकलीपन लगता है। गाने अगर अच्छे हों तो मनोरंजन करते हैं, फिर चाहे उन्हें गलत जगह डाला हो या थोड़े-थोड़े अंतराल के बाद, पर यहां न तो गाने अच्छे हैं और न ही उन्हें ठीक जगह दी गई है। सिर्फ एक गाना आपका ध्यान खींचता है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


फिल्म का निर्देशन कमजोर है। फिल्म के ट्विस्ट एंड टर्न्स भी नहीं लुभा पाते, क्योंकि यह सब आप पहले कई बार देख चुके हैं। बस थोड़ा आपके चेहरे पर मुस्कुराहट बिखेरने में कामयाब रहते हैं तो वह हैं, विजय राज। दूसरी चीज यह है कि फिल्मकार जब भी मीडिया पर आधारित फिल्म बनाते हैं तो वह वास्तविकता से कोसों दूर होकर उसमें फूहड़ता क्यों डाल देते हैं? काश वे जो कहना चाहते हैं, उसे सही तथ्यों और विश्वास के साथ कहें तो दर्शकों को मजा आएगा और उन्हें फायदा होगा। इस फिल्म के लिए मेरी रेटिंग है, 1.5 स्टार।