NDTV Khabar

अवॉर्ड शो में शामिल क्यों नहीं होते आमिर खान, राम गोपाल वर्मा ने बताई वजह

812 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अवॉर्ड शो में शामिल क्यों नहीं होते आमिर खान, राम गोपाल वर्मा ने बताई वजह

आमिर खान और राम गोपाल वर्मा.

खास बातें

  1. वर्मा ने आमिर खान को देश का सबसे महान फिल्मकार बताया
  2. अवॉर्ड शो से आमिर की अनुपस्थिति ही काफी कुछ कहती है- वर्मा
  3. 'आमिर खान ही बनाते हैं सबसे अच्छी फिल्में'
नई दिल्ली: टाइगर श्रॉफ के बाद अब फिल्मकार राम गोपाल वर्मा का फोकस आमिर खान और नेशनल अवॉर्ड्स पर शिफ्ट हो गया है. उन्होंने नेशनल अवॉर्ड के साथ-साथ भारतीय फिल्म अवॉर्ड्स की आलोचना करते हुए बताया कि आमिर खान इन समारोहों का हिस्सा क्यों नहीं बनते हैं. वर्मा ने अपने ट्वीट्स के जरिए आमिर खान को देश का सबसे महान फिल्मकार बताते हुए कहा कि अवॉर्ड शो उनके परफॉर्मेंस को जज करने के लायक नहीं हैं. वर्मा ने ट्वीट किया, "आमिर खान, भारत के सबसे महान फिल्मकार, अवॉर्ड समारोहों का हिस्सा नहीं बनते इससे ही इन समारोहों के स्तर का पता चलता है."
 
इतना कहने के बाद भी वर्मा नहीं रुके, उन्होंने आगे लिखा, "सबसे अच्छी क्वालिटी की फिल्में आमिर बनाते हैं और उन्हें इंडियन अवॉर्ड कमिटी, चाहे वह नेशनल अवॉर्ड ही क्यों न हो, से फर्क नहीं पड़ता."
 
इस महीने की शुरुआत में नेशनल अवॉर्ड्स की घोषणा हुई थी जिसमें अक्षय कुमार को 'रुस्तम' के लिए बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड दिया गया था. पुरस्कारों की घोषणा के तुरंत बाद सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर बहस शुरू हो गई थी कि क्या अक्षय कुमार ने आमिर खान से बेहतर काम किया था. 64वें नेशनल अवॉर्ड की ज्यूरी के चेयरमैन और फिल्मकार प्रियदर्शन ने बताया था कि बेस्ट एक्टर की श्रेणी में मलयालम अभिनेता मोहनलाल और अक्षय कुमार फाइनल दावेदार थे. उन्होंने यह भी कहा कि 'दंगल' पर पुनर्विचार किया गया था पर रीजनल फिल्में अधिक अच्छी थीं इस वजह से मराठी फिल्म 'कसाव' को बेस्ट फिल्म का नेशनल अवॉर्ड दियया गया.

प्रियदर्शन अक्षय कुमार के साथ 'हेरा फेरी', 'गरम मसाला', 'भागमभाग' और 'भूल भुलैया' जैसी फिल्में बना चुके हैं. उन्होंने पीटीआई से कहा, 'मैंने विवाद के बारे में सुना है और सीधे तरीके से इसका जवाब देना चाहूंगा. जब रमेश सिप्पी ज्यूरी हेड थे तब अमिताभ बच्चन ने यह अवॉर्ड जीता था. जब प्रकाश झा ज्यूरी हेड थे तब अजय देवगन ने यह अवॉर्ड जीता था. लेकिन पहले यह सवाल नहीं उठाया गया तो अब क्यों?'

हालांकि, इस साल 'दंगल' में बेहतरीन अभिनय के लिए आमिर खान को फिल्मफेयर ने बेस्ट एक्टर श्रेणी में अवॉर्ड दिया है. फिल्म में आमिर ने पहलवान महावीर सिंह फोगाट की भूमिका निभाई थी. आमिर ने 90के दशक में अवॉर्ड समारोहों में शामिल होना बंद कर दिया था. साल 1996 में फिल्मफेयर ने शाहरुख खान के लिए 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के लिए बेस्ट एक्टर अवॉर्ड दिया था, इस साल आमिर खान को 'रंगीला' के लिए नॉमिनेट किया गया था. कहा जाता है कि उस साल आमिर खान को लगा था कि अवॉर्ड के लिए वह शाहरुख खान से ज्यादा काबिल थे.

आमिर खान इन दिनों अपनी फिल्म 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान' की तैयारी में लगे हैं. फिल्म में वह पहली बार अमिताभ बच्चन के साथ नजर आएंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement