NDTV Khabar

नहीं रहे 'बागबान', 'महाभारत' के निर्देशक रवि चोपड़ा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई:

बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्माता-निर्देशक रवि चोपड़ा का लंबी बीमारी के बाद बुधवार को मुंबई में निधन हो गया है। 68-वर्षीय रवि काफी दिनों से फेफड़ों से जुड़े एक रोग के कारण ब्रीच कैंडी अस्पताल में दाखिल थे। डॉक्टरों के अनुसार, रवि कई दिन से वेंटिलेटर पर थे और उनके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं हो रहा था।

मशहूर चोपड़ा परिवार के बड़े पुत्र बीआर चोपड़ा की संतान रवि का जन्म 27 सितंबर, 1946 को मुंबई में ही हुआ था। रवि चोपड़ा ने निर्देशक के रूप में अपनी पहली ही फिल्म 'ज़मीर' में अमिताभ बच्चन और सायरा बानो को निर्देशित किया था, लेकिन वह लाइमलाइट में तब आए, जब वर्ष 1980 में उनके द्वारा निर्देशित मल्टीस्टारर फिल्म 'द बर्निंग ट्रेन' पर्दे पर आई।

इसके बाद रवि चोपड़ा ने 'ट्रेजेडी किंग' कहे जाने वाले बॉलीवुड दिग्गज दिलीप कुमार को वर्ष 1983 में 'मज़दूर' में निर्देशित किया। फिर वर्ष 1986 में उन्होंने अपने पिता द्वारा निर्मित 'दहलीज़' में राज बब्बर, स्मिता पाटिल, मीनाक्षी शेषाद्रि तथा जैकी श्रॉफ को निर्देशित किया।

उन्हें दूसरी बार ज़ोरदार कामयाबी मिली वर्ष 2003 में आई फिल्म 'बागबान' से, जिसमें एक बार फिर उन्होंने अमिताभ बच्चन और सलमान खान से काम करवाया। इस फिल्म को जबरदस्त कामयाबी और प्रशंसा हासिल हुई। उनके द्वारा निर्देशित आखिरी फिल्म वर्ष 2006 में आई 'बाबुल' थी, जिसमें फिर अमिताभ बच्चन और सलमान खान एक साथ थे, लेकिन इसे 'बागबान' जैसी कामयाबी हासिल नहीं हो पाई।

इन सब फिल्मों के अलावा रवि ने भारतीय टेलीविज़न की दुनिया के सबसे कामयाब धारावाहिकों में से एक 'महाभारत' का भी निर्देशन किया था। वैसे, निर्देशक के अलावा उन्होंने निर्माता के रूप में भी बॉलीवुड के दर्शकों को कई फिल्में दी हैं, जिनमें वर्ष 2008 में रिलीज़ हुई 'भूतनाथ' सबसे ताजातरीन उदाहरण है। इन्हीं के बैनर की फिल्म 'भूतनाथ रिटर्न्स' तो इसी साल रिलीज़ हुई है।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement