Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

सनी देओल के कहने पर श्रेयस तलपदे ने डायरेक्ट की 'पोस्टर बॉयज'

सनी देओल, बॉबी देओल और श्रेयस तलपदे की तिकड़ी एक साथ 'पोस्टर बॉयज' में नजर आएगी. फिल्म की शूटिंग के दौरान सनी पाजी ने जमकर की श्रेयस की मदद

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सनी देओल के कहने पर श्रेयस तलपदे ने डायरेक्ट की 'पोस्टर बॉयज'

पोस्टर बॉयज का पोस्टर

खास बातें

  1. मराठी फिल्म का रीमेक है पोस्टर बॉयज
  2. श्रेयस की बतौर डायरेक्टर डेब्यू फिल्म है
  3. कॉमेडी फिल्म है पोस्टर बॉयज
नई दिल्ली:

श्रेयस तलपदे पोस्टर बॉयज के साथ बतौर डायरेक्टर डेब्यू करने जा रहे हैं, और वह ट्रेलर को मिले रिस्पॉन्स से काफी उत्साहित भी हैं. ये इसी नाम से 2014 में बनी मराठी फिल्म का रीमेक है. हालांकि डायरेक्शन करना आसान काम नहीं है लेकिन श्रेयस तलपदे ने सनी पाजी की प्रेरणा से सबकुछ आसानी से कर डाला. 

पोस्टर बॉयज के बारे में श्रेयस कहते हैं, “हमें इसके लिए डायरेक्टर नहीं मिल सका, तो मुझे डायरेक्ट करनी पड़ी. यह तो हुआ मजाक. हुआ यूं कि हर कोई और खासकर सनी पाजी ने मुझे इसे फिल्म को डायरेक्ट करने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि तुम्हारे पास विजन है और तुमने फिल्म देख रखी है, तो तुम अपने डायरेक्शन के जरिये हमें फिल्म क्यों नहीं दिखाते.”

टिप्पणियां


सनी देओल के साथ काम करने के बारे में उन्होंने कहा, “वे बहुत ही रिजर्व और शर्मीले इनसान हैं, इसी वजह से आप उनके बारे में अनुमान नहीं लगा सकते. वे मुझे छोटे भाई की तरह देखते हैं और वे सेट पर मेरा बहुत साथ देते थे. उन्होंने डायरेक्शन में भी मेरी काफी मदद की. उन्होंने एक डायरेक्टर के तौर पर मेरी संभावनाओं पर कभी संदेह नहीं किया. उन्होंने मेरे भरोसा जताया और मेरी मदद की.”


श्रेयस बताते हैं, “मैं हृषिकेश मुखर्जी दा का बहुत बड़ा फैन हूं. मैंने हमेशा उनकी फिल्मों और काम को देखा है. मैंने नागेश कुकनूर से लेकर फराह खान और श्याम बेनेगल जैसे डायरेक्टरों के साथ काम किया है. मैंने उनसे जो भी सीखा, इसमें पिरोने की कोशिश की है. जैसे नागेश की बारिकीयां, फराह का 70एमएम का विजन, रोहित की फैमिली एंटरटेनर बनाने की काबिलियत.” श्रेयस तलपदे, सनी देओल और बॉबी देओल की नसबंदी पर बनी ये फिल्म 8 सितंबर को रिलीज हो रही है.
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली हिंसा पर बोली HC- कोर्ट और पुलिस के होते हुए दिल्ली में दूसरा 1984 नहीं देख सकते

Advertisement