NDTV Khabar

तिग्‍मांशु धूलिया ने अपनी फिल्‍म 'रागदेश' के कांग्रेस विरोधी होने से किया इंकार

तिग्‍मांशू ने कहा, "उस समय कांग्रेस पार्टी, मुस्लिम लीग, हिंदू महासभा और अकाली दल उनकी सजा के विरोध में साथ खड़े थे. भारतीय इतिहास में ऐसा पहली बार देखा गया. इसलिए, इस फिल्म में कुछ भी कांग्रेस विरोधी नहीं है.'

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तिग्‍मांशु धूलिया ने अपनी फिल्‍म 'रागदेश' के कांग्रेस विरोधी होने से किया इंकार

फिल्‍म रागदेश का पोस्‍टर.

नई दिल्‍ली: निर्देशक तिग्मांशु धूलिया ने कहा कि उनकी आगामी फिल्म 'रागदेश' में किसी भी तरह के विवाद की जगह नहीं है और यह किसी रूप में कांग्रेस विरोधी नहीं है. यह फिल्म 1945 में लाल किले में आजाद हिंद फौज (आईएनए) के सैनिकों पर चले मुकदमों पर आधारित है. इस फिल्म का ट्रेलर यहां गुरुवार को दिखाया गया था. दरअसल, धूलिया से पूछा गया था कि क्या यह कांग्रेस विरोधी है? क्योंकि जब से पार्टी सत्ता से बाहर हुई है, तब से 1984 के सिख दंगों पर '31 अक्टूबर', और 1975 के आपातकाल पर बनी 'इंदू सरकार' जैसी फिल्में रिलीज होने को तैयार हैं. धूलिया ने कहा, 'मैं अन्य फिल्मों पर टिप्पणी नहीं करूंगा, लेकिन 'रागदेश' में आपको कोई विवाद नहीं मिलेगा, क्योंकि जब ब्रिटिश हुकूमत ने आजाद हिंद फौज के तीन सैनिकों को मौत की सजा दी, उनमें एक हिंदू, एक सिख और एक मुस्लिम था.'
 

फिल्म 'पान सिंह तोमर' के निर्देशक ने कहा, "उस समय कांग्रेस पार्टी, मुस्लिम लीग, हिंदू महासभा और अकाली दल उनकी सजा के विरोध में साथ खड़े थे. भारतीय इतिहास में ऐसा पहली बार देखा गया. इसलिए, इस फिल्म में कुछ भी कांग्रेस विरोधी नहीं है. यह एक बहुत ही सकारात्मक फिल्म है. यह फिल्म आईएनए, अदालत के मुकदमों और सुभाष चंद्र बोस के बारे में है, क्योंकि बहुत से लोग नहीं जानते कि वास्तव में बोस ने इस देश के लिए क्या किया.' उन्होंने कहा, 'इस फिल्म के माध्यम से हम यह दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि आईएनए के सदस्य हमारे देश के धोखेबाज थे या हीरो.' राज्यसभा टेलीविजन पहली बार एक व्यावसायिक फिल्म का निर्माण कर रहा है.

बता दें कि तिग्मांशु धूलिया की फिल्म 'राग देश' का ट्रेलर देश की संसद में रिलीज किया गया है. ऐसा पहली बार है जब किसी फिल्म का ट्रेलर संसद में रिलीज हुआ है. इस फिल्‍म में कुणाल कपूर, अमित साध और मोहित मारवाह नजर आने वाले हैं. हाल ही में जब तिग्‍मांशू से पूछा गया कि क्‍या यह फिल्‍म सुभाष चंद बोस की रहस्यमय मौत के राज भी खोलेगी, तो उन्‍होंने इससे इनकार किया. वहीं संसद में फिल्म के ट्रेलर को लॉन्च किए जाने के बारे में पूछे जाने पर धूलिया ने कहा, 'यह बिलकुल उपयुक्त है. आईएनए के संघर्ष के बाद हमें आजादी और अपनी संसद मिली इसलिए हमने ट्रेलर को संसद में रिलीज किए जाने का चुनाव किया.' इस फिल्म में कुणाल कपूर, मोहित मारवाह और अमित साध मुख्य भूमिकाओं में हैं. यह फिल्म 28 जुलाई को रिलीज होने जा रही है.

(इनपुट आईएएनएस से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement