NDTV Khabar

अगर मौका मिला तो 'सिल्क स्मिता' जैसा किरदार दोबारा निभाना चाहेंगी विद्या बालन

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगर मौका मिला तो 'सिल्क स्मिता' जैसा किरदार दोबारा निभाना चाहेंगी विद्या बालन

विद्या बालन (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. काफी खास फिल्में हैं 'कहानी 2' और 'बेगमजान'
  2. साड़ी के साथ पारंपरिक गहने ज्यादा अच्छे लगते हैं
  3. कुछ फिल्मों में काफी सादगी भरे अंदाज में नजर आई थीं
नई दिल्ली:

बॉलीवुड की बेहतरीन अभिनेत्रियों में शुमार विद्या बालन की केवल खूबसूरती और अभिनय के ही नहीं, लोग उनकी मोहक मुस्कान के भी कायल हैं। वर्ष 2011 में आई फिल्म 'डर्टी पिक्चर' से दर्शक उनके ग्लैमरस अंदाज के भी दीवाने हो गए थे, विद्या का कहना है कि अगर उन्हें मौका मिला तो वह पर्दे पर दोबारा उसी अंदाज में नजर आना चाहेंगी।

काफी खास फिल्में हैं 'कहानी 2' और 'बेगमजान'
'डर्टी पिक्चर' और 'कहानी' जैसी कई सफल फिल्में दे चुकीं विद्या ने खास बातचीत में बताया कि उनके लिए 'कहानी 2' और 'बेगमजान' काफी खास हैं, और वह इसे लेकर बहुत उत्साहित हैं।' फिल्म 'कहानी' में विद्या के साथ अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी भी नजर आए थे, तो वहीं 'कहानी 2' में अर्जुन रामपाल प्रमुख भूमिका में नजर आएंगे। विद्या से जब पूछा गया कि 'कहानी' और 'कहानी 2' में कितना अंतर है, तो इस पर उन्होंने कहा, 'जब आप इसे देखेंगी तो आपको पता चलेगा। मैं अभी ज्यादा नहीं बता सकती। जब टीजर देखेंगे तो आपको थोड़ा अंदाजा होगा कि यह कैसी है, और जब फिल्म रिलीज होगी तो आपको पता चलेगा कि यह 'कहानी' से कितनी अलग है।'

साड़ी के साथ पारंपरिक गहने ज्यादा अच्छे लगते हैं
ज्वेलरी ब्रांड सेंको गोल्ड एंड डायमंड्स की ब्रांड एंबेसडर विद्या से जब पूछा गया कि एक महिला के तौर पर उन्हें गहनों से कितना लगाव है, तो उन्होंने कहा, 'मुझे गहनों का बहुत शौक है, आपने देखा होगा कि मैं ज्यादातर साड़ी पहनती हूं, और मुझे साड़ी के साथ पारंपरिक गहने ज्यादा अच्छे लगते हैं। मैं अगूंठियां भी पहनती हूं, हालांकि मैं गले में गहने जरा कम पहनती हूं। मैं पारंपरिक गहनों की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं और मैं अधिकतर आरामदेह गहने पहनना पसंद करती हूं।' विद्या को कौन सा गहना अधिक पसंद है, इस पर उन्होंने कहा, 'मुझे झुमकों का बहुत शौक है, मेरे पास तरह-तरह के झुमके हैं और ईमानदारी से कहूं तो मैंने अपने कॉलेज दिनों में पांच रुपये तक के झुमके लिए हैं, भगवान की कृपा से तब से लेकर मैंने काफी प्रगति की और हर तरह के झुमके पहने। मेरे पास बचपन में पहली बार पहनाई गईं कान की बालियां भी हैं, जब मेरा कुछ और पहनने का मन नहीं करता है, तो मैं उन्हें पहनती हूं।'


टिप्पणियां

कुछ फिल्मों में काफी सादगी भरे अंदाज में नजर आई थीं
विद्या अपनी शुरुआती फिल्मों 'परिणीता' और 'लगे रहे मुन्ना भाई' में काफी सादगी भरे अंदाज में नजर आई थीं, लेकिन 'हे बेबी' और 'डर्टी पिक्चर' में दर्शकों को विद्या का काफी ग्लैमरस अंदाज देखने को मिला। इसके बाद उन्होंने 'कहानी' और 'हमारी अधूरी कहानी' में भी साधारण महिला का किरदार निभाया था, विद्या से जब पूछा गया कि वह अब किस फिल्म में ग्लैमरस अंदाज में नजर आएंगी, तो उन्होंने कहा, 'मुझे समझ नहीं आता कि आप लोग ग्लैमरस किस चीज को कहते हैं, मुझे ग्लैमर की परिभाषा नहीं पता और मैं इसे समझने की कोशिश करती हूं।' क्या विद्या किसी फिल्म में सिल्क स्मिता वाले किरदार में दोबारा नजर आएंगी, तो उन्होंने कहा, 'अभी ऐसी कोई भूमिका नहीं कर रही हूं। बहुत अच्छी पटकथाएं लिखी जा रही हैं, इस साल मैंने दो फिल्में पूरी की हैं, एक बायोपिक में काम शुरू कर रही हूं। यह मेरे लिए उत्साह से भरा समय है। हां, अगर कोई इस तरह की भूमिका मिली तो मैं जरूर करना चाहूंगी।'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement