NDTV Khabar

पाकिस्‍तान के पेशावर में जन्‍में विनोद खन्‍ना देखना चाहते थे अपना पुश्तैनी घर

58 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्‍तान के पेशावर में जन्‍में विनोद खन्‍ना देखना चाहते थे अपना पुश्तैनी घर

खास बातें

  1. विभाजन के समय पाकिस्‍तान से भारत आ गया था विनोद खन्‍ना का परिवार
  2. उन्‍होंने पाकिस्‍तान जाने की अर्जी दी थी लेकिन जा नहीं सके थे
  3. गुरुवार को विनोद खन्‍ना की कैंसर से मौत हो गई
नई दिल्‍ली: हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता विनोद खन्ना पाकिस्तान के पेशावर स्थित अपने पुश्तैनी घर को देखना चाहते थे, लेकिन उनकी यह ख्वाहिश पूरी नहीं हो सकी. खन्ना का कल मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया था. वह 70 साल के थे. न्‍यूज एजेंसी भाषा के अनुसार खबर पख्तूनख्वाह प्रांत में सांस्कृतिक धरोहर परिषद के महासचिव शकील वहीदुल्ला ने 2014 में अपनी भारत यात्रा के दौरान खन्ना से मुलाकात की थी. भाषा की रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने कहा, 'अपने ऑटोग्राफ में खन्ना ने पेशावर के लोगों को शुभकमानाएं दी थी और अपने पुश्तैनी शहर की यात्रा करने की इच्छा जताई थी.'  वहीदुल्ला ने कहा, 'खन्ना उस इलाके को देखने के लिए पेशावर जाना चाहते थे जहां उनके माता-पिता और पूर्वज रहे थे. उन्होंने पाकिस्तान की यात्रा करने के लिए आग्रह किया था, लेकिन उनको इसमें सफलता नहीं मिल सकी.'

बता दें कि विनोद खन्‍ना का जन्‍म 6 अक्‍टूबर, 1946 में पाकिस्‍तान के पेशावर में हुआ था. शकील वहीदुल्‍ला का कहना है कि पाकिस्‍तान की सांस्कृतिक धरोहर परिषद जल्द ही खन्ना के सम्मान में एक कार्यक्रम का आयोजन करेगा. जानेमाने फिल्म इतिहासकार मुहम्मद इब्राहीम जिया ने कहा कि पेशावर में खन्ना का पुश्तैनी घर मौजूद है और ऑल पाकिस्तान वूमेंस एसोसिएशन द्वारा इसका इस्तेमाल किया जा रहा है.
 
vinod khanna

विनोद खन्‍ना ने 1975 में ओशो का रुख कर लिया था.


विनोद खन्ना को पेशावर के एक गर्व के रूप में याद करते हुये शुक्रवार को पाकिस्‍तान में जन्मस्थान पर लोगों ने इस महान अभिनेता को श्रद्धांजलि अर्पित की. पेशावर में जाने-माने फिल्म इतिहासकार मुहम्मद इब्राहिम जिया ने कहा, 'खन्ना का जन्‍म पेशावर के छावनी क्षेत्र में आने वाले सरदार इलाके में जन्म हुआ था.  उनके पिता मेहर चंद खन्ना एक बड़े कारोबारी और कांग्रेस के पूर्व मंत्री थे.'

फिल्‍मों से लेकर राजनीति तक में सक्रिय रहे विनोद खन्‍ना कैंसर से पीड़‍ित थे. हाल ही में उनकी एक तस्‍वीर काफी वायरल हुई थी जिसे देखकर उनके फैन्‍स का दिल टूट गया था. तस्‍वीर में वह काफी कमजोर  नजर आ रहे थे. मुंबई के एच एन रिलायंस अस्‍पताल में उनका इलाज चल रहा था. विनोद खन्ना के अस्‍पताल में भर्ती होने के बाद से ही उनके स्वास्थ्य के लिए पूरा हिंदी सिनेमा जगत दुआएं कर रहा था. गुरुवार को मालाबार हिल्‍स इलाके में शाम 4.30 बजे उनका अंतिम संस्‍कार किया गया जिसमें बॉलीवुड की कई हस्तियां पहुंचीं. विनोद खन्ना ने अपने चार दशक लंबे सिने करियर में लगभग 150 फिल्मों में अभिनय किया.

(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement