NDTV Khabar

इस्लाम के नाम पर कट्टरता के विरुद्ध है फिल्म 'या-रब' : इमरान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली: इस्लाम धर्म के नाम कट्टरता फैलाने वालों का पर्दाफाश करने वाली फिल्म 'या रब' में इस्लाम की दो समानांतर धाराओं को एक साथ उकेरने की कोशिश की गई है जिसमें एक धारा मुसलमानों के साथ भेदभाव को लेकर उन्हें कट्टरवाद के दलदल की ओर ले जाती है तो दूसरा मानवता और सहिष्णुता की धारा है जो लोगों में इंसानी प्रेम और मानवता का संदेश फैलाती है।

फिल्म में एक महत्वपूर्ण किरदार की भूमिका अदा करने वाले अभिनेता इमरान हस्नी ने बताया, 'फिल्म का संदेश काफी मौजूं है। इसमें भेदभाव के नाम पर कट्टरता को फैलाने वालों को बेनकाब किया गया है और मुसलमानों के 'तथाकथित पैराकारों' के निहितार्थ की विवेचना करने की कोशिश की गई है। इस्लाम की एक मानवीय प्रेम की धारा को लोगों के बीच स्थापित करने का बेहतर प्रयास किया गया है।'

उन्होंने अधिक ब्योरा दिए बगैर कहा, 'फिल्म की कहानी बहुत स्वाभाविक है। इसमें यह साफ किया गया है कि कोई भी धर्म कभी भी इंसानीयत की भावना को नजदअंदाज नहीं करता और जो इस अहम चीज की अनदेखी करता है, वो कम से कम धर्म नहीं हो सकता। इस्लामी धर्म ग्रंथ 'कुरान' कट्टरता की इजाजत नहीं देता।'

फिल्म में इमरान की भूमिका मुख्य जेहादी आतंकवादी की है।

फिल्म ‘या रब’ देश भर के थियेटरों में 7 फरवरी को रिलीज होने जा रही है। फिल्म के इस अहम संदेश को देखते हुए प्रख्यात फिल्मकार महेश भट्ट ने इसके ‘प्रोमोशन’ का काम काज संभाला है। यह फिल्म उनकी कंपनी ‘विशेष फिल्म’ के द्वारा रिलीज की जायेगी। फिल्म का निर्देशन हसनैन हैदराबादवाला ने किया है जिनकी इससे पहले दो फिल्में आ चुकी हैं. 'द ट्रेन' और 'द किलर'। फिल्म के मुख्य कलाकारों में एजाज खान, अर्जुमन मुगल, राजू खेर, विक्रम सिंह, इमरान हस्नी शामिल हैं।

इमरान हस्नी की दो फिल्में जल्द ही रिलीज होने वाली हैं। एक सुभाष घई की 'कांची' और दूसरा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री पर बन रही फिल्म 'जय जवान जय किसान' है। इन दोनों ही फिल्मों में इमरान की महत्वपूर्ण भूमिका है।

साफ्टवेयर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले इमरान ने हॉलीवुड फिल्म 'माइटी हार्ट', मारीशस में फिल्मायी गई फ्रांसीसी निर्देशक की फिल्म 'डेथ लाइन', कई श्रेणी में ऑस्कर पुरस्कार जीतने वाली हालीवुड प्रोडक्शन की डेनी बॉयल की फिल्म 'द स्लम डॉग मिलेनियर', राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित फिल्म 'पान सिंह तोमर', निर्देशक मिलम लुथरिया की 'द डर्टी पिक्चर', निर्देशक निखिल अडवाणी की फिल्म 'डी डे' जैसी फिल्मों में अपनी अभिनय क्षमता का लोहा मनवा चुके हैं।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement