वायु प्रदूषण से बचने के उपाय: दिवाली के बाद वायु गुणवत्ता चिंताजनक, जानें कैसे बचें Air Pollution से

Air Pollution After Diwali: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता दीवाली (Air Quality) के बाद इस सीजन में पहली बार सोमवार को चिंताजनक स्थिति में पहुंच गई है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार, सोमवार सुबह दिल्ली में हवा की गुणवत्ता 10 पीएम (पार्टिकुलेट मैटर) पर थी, जो 476 पर गंभीर श्रेणी में है.

वायु प्रदूषण से बचने के उपाय: दिवाली के बाद वायु गुणवत्ता चिंताजनक, जानें कैसे बचें Air Pollution से

Health Effects of Air Pollution: प्रदूषित हवा सांस की समस्याओं से पीड़ित लोगों को अधिक प्रभावित करती है.

Air Pollution After Diwali: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता दीवाली के बाद इस सीजन में पहली बार सोमवार को चिंताजनक स्थिति में पहुंच गई है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार, सोमवार सुबह दिल्ली में हवा (Delhi Air Pollution) की गुणवत्ता 10 पीएम (पार्टिकुलेट मैटर) पर थी, जो 476 पर गंभीर श्रेणी में है. एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) की छह श्रेणियां हैं - अच्छी, संतोषजनक, मध्यम प्रदूषित, खराब, बहुत खराब और गंभीर. इनमें से प्रत्येक श्रेणी वायु प्रदूषकों (Air Pollution) की मात्रा और उनके संभावित स्वास्थ्य प्रभावों के आधार पर तय की जाती है. एसएएफएआर ने पूर्वानुमान जताया था कि 2017 और 2018 की औसत तुलना में 50 प्रतिशत पटाखों के जलने के साथ सोमवार सुबह हवा की गुणवत्ता (Air Pollution in Delhi) गंभीर स्तर को छू लेगी, लेकिन पीएम 2.5 की चरम स्तर पर रहने के साथ संभवता पिछले 3 वर्षो की तुलना में सबसे कम रहा.

Diwali 2019, Health Tips: दिवाली पर अस्थमा, दिल के रोगी और गर्भवती के लिए हेल्थ टिप्स

Health Effects of Air Pollution: प्रदूषित हवा उन लोगों को ओर ज्यादा प्रभावित कर रही है जो पहले से सांस की समस्याओं जैसे ब्रॉंकियल अस्थमा, क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पल्मोनरी डिस्ऑर्डर, इंटरस्टीशियल लंग डीजीज (फेफड़ों का रोग), सिस्टिक फाइब्रोसिस, फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित हैं. इसके अलावा बुजुर्गो और कम प्रतिरक्षी क्षमता वाले लोगों पर भी इसका बुरा असर पड़ रहा है. मौजूदा स्थिति में सलाह दी जाती है कि जहां तक हो सके, प्रदूषित हवा के सम्पर्क में आने से बचें, वायू प्रदूषण से बचने के लिए मास्क पहनें.

Health Tips: त्योहारों में कैसे रखें सेहत का ख्याल, ये टिप्स आएंगे काम

कैसे बचें वायु प्रदूषण से और कम करें इससे होने वाले नुकसान को | Tips to Protect Yourself from Unhealthy Air

- घर की भीतरी हवा की गुणवत्ता को नियन्त्रित रखें- दरवाजे और खिड़कियां बंद रखें. एयर प्यूरीफायर भी लगा सकते हैं. 
- पूरी बाजू के कपड़े पहनें और अपने चेहरे को अच्छी गुणवत्ता के मास्क से ढकें. (नियमित समय अंतराल पर मास्क बदलें)
- घर के बाहर किए जाने वाले व्यायाम से बचें, इसके बजाए घर के अंदर योगा जैसे व्यायाम करें.
- अपने घर के आस-पास प्रदूषण कम करने के लिए पेड़ लगाएं.
- प्रतिरक्षी क्षमता को मजबूत बनाने के लिए अदरक और तुलसी की चाय पीएं. 
- अपने आहार में विटामिन सी, ओमेगा 3 और मैग्निशियम, हल्दी, गुड़, अखरोट आदि का सेवन करें. 
- हवा को फिल्टर करने वाले पौधे घर में लगाएं. जहरीली गैसों को कम करने के लिए कुछ पौधे बेहद काम आ सकते हैं. इन्हें एयर फिल्टरिंग प्लांट भी कहा जाता है. खुजली, जलन, लगातार जुकाम, एलर्जी और आंखों में जलन से बचाव में ये पौधे आपकी सहायता करेंगे. 
- आप घर में एलो वेरा, लिली, स्नेक प्लांट (नाग पौधा), पाइन प्लांट (देवदार का पौधा) मनी प्लांट, अरीका पाम और इंग्लिश आइवी लगा सकते हैं. यह पौधे घर की हवा को साफ करने में मददगार साबित होते हैं. (इनपुट-आईएएनएस)

और खबरों के लिए क्लिक करें.

Rice Varieties: रेड, ब्लैक और वाइट, कौन सा चावल है सेहत के लिए राइट

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com